डोर टू डोर क्लेशन की मॉनेटरिंग करेगी महिला स्व-सहायता समूह

जलजनित रोगो को लेकर लोगो को बनाएंगी जागरूक

रायपुर। अगर आप भी गिला कचरा और सूखा कचरा अलग नहीं रखते है, तो आपको समझाइश देने निगम ने एक नया पैतरा अपनाया है। निगम अब डोर टू डोर कचरा कलेक्शन के कार्य में महिला स्व सहायता समूहों को भी उतार रही है। जो गिला कचरा और सूखा कचरा अलग रखने की समझाइश देगा। साथ ही जल जनित रोगों के लिए घर घर पहुंचकर लोगो को जागरूक भी करेगा। इसके इतर ये महिलाएं लोगो से यूजर चार्ज भी वसूलने का काम करेगी। इसकी शुरुवात कल से हो जाएगी।

                         स्वसहायता समूह की ये महिलाएं रामकी कम्पनी की 117 गाड़ियों में कचरा कलेक्शन करने का काम करेगी। इसके साथ ही ये महिलाएं घरों से लेकर डंप यार्ड तक गीले कचरे और सूखे कचरे के निष्पादन के लिए भी कार्य करेंगी। फिलहाल समूह की इन महिलाओं को 117 गाड़ियों में सहभागी बनाया गया है। शेष वाहनो में भी महिला स्वसहायता समूहों की महिलाएं डोर टू डोर कचरा कलेक्शन में सक्रिय भागीदारी निभाना शुरू कर देंगी। महापौर एवं आयुक्त ने नई व्यवस्था के तहत जोन कमिश्नरों एवं जोन स्वास्थ्य अधिकारियों को महिला स्वसहायता समूहो की महिलाओं की सहभागिता के माध्यम से जनहित में जन स्वास्थ्य सुरक्षा हेतु प्रभावी डोर टू डोर कचरा कलेक्शन मॉनिटर कर सुनिश्चित करने के निर्देष दिये है।

निगमजल जनित रोग के लिए करेंगी जागरूक
डोर टु डोर कचरा कलेक्शन के साथ महिला स्व सहायता समूह के सदस्यों द्वारा जल जनित रोगो को लेकर जागरूकता भी लाने का काम करेंगी। जिसमें पीलिया, हैज़ा, मलेरिया जैसी बीमारियों के लक्षण और होने की वज़ह / लक्षण बताकर लोगो को जागरूक किया जाएगा।

संबंधित पोस्ट

रायपुर नगर निगम की फूड सप्लाई सेल जरुरत मंदो तक पहुंचाया भोजन

बंसल, होरा जीते, एजाज और अजीत कुकरेजा की बड़ी जीत

निकाय चुनाव के मतगणना मे कांग्रेस और भाजपा में कड़ी टक्कर

Big News : शनिवार से होगी 19 टंकियों में 100 फीसदी तक पानी सप्लाई

नगरीय निकाय चुनाव को लेकर राजनितिक दलों की रणनीति बननी शुरू

बैठक के दौरान जब रायपुर कलेक्टर को गिफ्ट में मिली कपड़े की थैली

वंदना ऑटो सील…बेसमेंट को बनाया था गोदाम और सर्विस सेन्टर

तबादला : 10 नगर निगम कमीश्नर समेत 18 अफसरों का तबादला

पीलिया, डायरिया और हैजा से बचने निगम ने लगाया हेल्थ कैंप

मटरगश्ती के साथ हरियाली के लिए “महाभियान”

अवैध कब्ज़ों से “आज़ाद हुआ राजधानी का कारी तालाब”

प्रदर्शन के बाद अब बदलेगा ट्रेंचिंग ग्राउंड का पता