मानसून सत्र : विधानसभा की कार्रवाई 18 जुलाई तक स्थगित

किसानों के कर्जमाफी के मुद्दे पर गरमाया सदन

रायपुर। विपक्ष के जबरदस्त हंगामे के बाद अब विधानसभा की कार्रवाई 18 जुलाई तक के लिए स्थगित कर दी गई है। विपक्ष ने मानसून सत्र के तीसरे दिन सदन के भीतर किसानों के कर्ज माफी पर जबरदस्त हंगामा किया। तीखे तेवर दिखाते हुए विपक्ष ने स्थगन प्रस्ताव लाकर कर्ज माफी के मामले पर चर्चा कराने की मांग की। भाजपा के साथ ही जनता कांग्रेस और बसपा सदस्यों ने भी इस मसले पर एकजुटता दिखाकर सरकार पर जबरदस्त दबाव बनाया और चर्चा को लेकर हंगामा किया।

जिसके बाद सदन की कार्यवाही स्थगित की गई थी। 10 मिनट के स्थगन के बाद सदन की कार्रवाई फिर से शुरू हुई। विपक्षी विधायकों ने गर्भगृह में जा कर नारेबाजी की जिसके बाद सभापति ने उन्हें निलंबित कर दिया। निलंबित विधायकों में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, बृजमोहन अग्रवाल, अजय चंद्राकर, के आलावा भाजपा के तमाम विधायक के साथ जनता कांग्रेस से धर्मजीत सिंह भी निलंबित हुए। जिसके बाद सभी ने महात्मा गांधी की मूर्ति के नीचे जाकर धरना दिया।CGVIDHANSABHA raipurcg

किसानों को पड़ रही दो तरफ़ा मार
पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने कहा है कि किसानों को दो तरफा मार पड़ रही है, एक तो बारिश नहीं होने से जहा किसान पहले ही परेशान है, वहीं सरकार ने कर्ज माफी को लेकर पूर्ण रूप से कार्य नहीं किया है। 65% ही कर्ज माफी दिखाई दे रही है। उन्होंने कहा कि आज की कार्रवाई को स्थगित करके इस मामले पर चर्चा होनी चाहिए थी, लेकिन सरकार ऐसी चर्चाएं नहीं चाहती है।