बदल सकता है नवा रायपुर के सीएम हॉउस का नक्शा…

16 एकड़ में सीएम हाउस बनाने से खफ़ा दिखे सीएम भूपेश

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज नवा रायपुर अटल नगर के सेक्टर 24 में मुख्यमंत्री निवास, मंत्रीगणों के आवास, विधायक विश्राम गृह और अधिकारियों के आवास के लिए प्रस्तावित स्थल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान अफसरों ने इस निर्माण की सुरक्षा और सुविधाओं की विस्तृत जानकारी दी है। सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक सूबे के मुखिया को राजसी ठाट वाला ये नए बंगले का प्लान पसंद नहीं आया है। सीएम भूपेश ने 16 एकड़ में बन रहे मुख्यमंत्री निवास पर नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने इतनी बड़ी जमींन पर बन रहे बंगले को लेकर अफसरों से जवाब तालाब भी किया है।

                   कयास लगाए जा रहे है कि संभवतः सूबे के मुखिया नवा रायपुर के मुख्यमंत्री निवास का नक्शा बदलवा सकते है। हालांकि इस पर अब तक कोई अधिकारी जानकारी नहीं मिली है। निरिक्षण के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को नवा रायपुर विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी नीलम एक्का ने सेक्टर 24 के बारे में विस्तार से जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को मुख्यमंत्री निवास, विधायक विश्राम गृह और अधिकारियों के आवास के लिए जल्द डी.पी.आर. तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इन आवासों के नजदीक मंत्रीगणों के स्टाफ के लिए ट्रांजिट हास्टल बनाने भी कहा। मुख्यमंत्री ने कहा कि निर्माण कार्य साल भर के भीतर पूर्ण करने के लिए समयबद्ध कार्य योजना तैयार कर ली जाए।

मिलेगी हर सुविधा
सीएम भूपेश ने आवासों के नजदीक जरूरी जन सुविधाओं के लिए नजदीक में मार्केट विकसित करने भी अफसरों से कहा है। यहां मनोरंजन के लिए पार्क, सिनेमा गृह आदि बनाया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि नवा रायपुर अटल नगर में मुख्यमंत्री, मंत्रियों और विधायकों के आवास निर्माण से यहां बसाहट बढ़ेगी और रायपुर शहर में ट्रैफिक का दबाव कम करने में मदद मिलेगी। आवास एवं पर्यावरण मंत्री मोहम्मद अकबर, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, कृषि एवं जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे और राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी भी उनके साथ उपस्तिथ थे।