अब मंत्रिमंडल में लिए कर्नाटक में “नाटक…..”


बंगलौर। कर्नाटक के सियासी नाटक में थोड़ी शांति है, मगर नाटक का क्लाइमेक्स अभी बाकी है। सीएम की शपथ ग्रहण के बाद अब कर्नाटक में खींचतान का दूसरा दौर शुरू हो गया है। अब मंत्रीमंडल में विभागों के बंटवारे को लेकर कांग्रेस और जेडीएस के बीच मतभेद उभर रहे हैं। मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने स्वीकार किया है कि उनके पार्टी और कांग्रेस के बीच विभागों के आबंटन को लेकर कुछ मतभेद हैं, लेकिन ऐसा कुछ नहीं है। जिससे सरकार को खतरा हो बता दें कि फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित करने के बाद मंत्रीमंडल विस्तार को लेकर कुमारस्वामी शनिवार को दिल्ली रवाना हो गए। उप मुख्यमंत्री जी परमेश्वर पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और डीके शिवकुमार के साथ उनकी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी से चर्चा होगी। प्रतिष्ठा का मुद्दा बनाने के बजाय सुलझाने की कोशिश। कुमारस्वामी ने पत्रकारों से बातचीत में कहा है कि उनकी पार्टी और कांग्रेस के बीच मतभेद जरूर हैं, लेकिन इसे प्रतिष्ठा का मुद्दा बनाने के बजाय वे समस्या को हल करने की कोशिश करेंगे। कुमारस्वामी ने कहा कि कांग्रेस आलाकमान की मंजूरी के बाद ही मंत्रीमंडल का विस्तार किया जाएगा। कुमारस्वामी ने बताया कि राज्य कांग्रेस के नेताओं को अपने केंद्रीय नेतृत्व से मंजूरी लेनी है, इसलिए वे दिल्ली जा रहे हैं। बता दें कि मंत्रीमंडल में 34 सदस्य होंगे जिसमें से कांग्रेस के 22 और जेडीएस के 12 मंत्री होंगे।

संबंधित पोस्ट

निर्भया के दोषियों को फांसी अब 1 फरवरी को

चीन में 7 दशक में सबसे कम जन्म दर

जेएनयू में 3 फरवरी से शुरू हो सकती हैं कक्षाएं

‘ईरान के मिसाइल हमले में 11 अमेरिकी सैनिक घायल हुए थे’

फ्रांस : 2022 का राष्ट्रपति चुनाव लड़ेंगी दक्षिणपंथी मरिन ले पेन

संविधान को पाठ्यक्रम में शामिल करने पर 3 महीने में फैसला ले केंद्र : सुप्रीम कोर्ट

छत्तीसगढ़ से भोपाल पहुंचा बब्बर शेर का जोड़ा

निर्भया के दोषियों के खिलाफ डेथ वारंट की नई याचिका

बापू को भारतरत्न देने के निर्देश की मांग खारिज

पगार 6 हजार पर खाते से 132 करोड़ का लेन-देन !

राष्ट्रपति ने निर्भया के दोषी की दया याचिका खारिज की

उप्र में थ्री-नॉट-थ्री को अंतिम विदाई