जन स्वराज सम्मलेन में बोले राहुल, नहीं सुनी सरपंचों की बदल देंगे सीएम


रायपुर। पंचायत प्रतिनिधियों से संवाद करने इनडोर स्टेडियम पहुँचू राहुल गांधी ने उन्हें फूल रिचार्ज किया। राहुल ने ये तक कह दिया कि अगर उनकी सरकार है और अगर सरपंचों की सुनवाई नहीं हुई तो बेशक राज्य का मुखिया भी बदल दिया जाएगा। राहुल की इस लाइन के ख़त्म, होने ही सम्मलेन में तालियों की गड़गड़ाहट सुनाई आने लगी। सम्मलेन में चले सवाल जवाब के दौरान राहुल गांधी ने सरपंचों के हर जिज्ञासा को शांत किया। एक सवाल के जवाब में राहुल ने कहा कि “धारा चालीस का प्रयोग केवल सरपंच पर क्यों ? इसके दायरे में प्रधानमंत्री क्यों नहीं आते, यह आपके अधिकारो पर हमला है।” उन्होंने हरियाणा का ज़िक्र करते हुए कहा कि “आप पर ब्यूरोक्रेट और सीएम का प्रभाव रहे इसके लिए तमाम दबाव आते हैं, पर आप दबाव में मत आईए। हरियाणा में कहा गया कि पंचायत प्रतिनिधि न्यूनतम आठवीं दसवीं पढ़े हो, यह नियम विधायक सांसद के लिए क्यों नहीं है ? यह सब इसलिए ताकि आप दबाव पर बने, पर मत दबिएगा, लड़िए कांग्रेस आपके साथ है।” राहुल गांधी ने कहा “मैं आपको भरोसा दिलाता हूँ, हमारी सरकार आई तो हम आपको और सशक्त करेंगे, सीएम यदि अवरोध बनेंगे तो सीएम भी हटाएं जाएँगे।”

संबंधित पोस्ट

कोलकाता के अस्पताल में संदिग्ध चीनी कोरोना मरीज भर्ती

कोरोना पर कैबिनेट सचिव ने की बैठक, 33 हजार लोगों की जांच

श्रीलंका में सीता मंदिर बनाने की प्रक्रिया तेज, समिति बनेगी

पाकिस्तान के सिंध प्रांत मंदिर में तोड़फोड़

9वीं मंजिल से गिरी महिला, उठ कर चलने लगी

चीन से लौटी बिहार की छात्रा कोरोना वायरस की चपेट में !

कोर्ट का इस्तेमाल एक मंच की तरह करती हैं पार्टियां : सुप्रीम कोर्ट

पाक में पश्तून नेता सहित 9 गिरफ्तार

नर्मदा अर्ध कुंभ की तैयारियों पर रेलवे का रोड़ा

रूस में 13 साल की मां और 10 साल का बाप

निर्भया कांड : दया याचिका खारिज होने पर सुप्रीम कोर्ट पहुंचा दोषी

बिग बी लुक वाले प्रोफेसर खोलेंगे वृद्धाश्रम