बंगाल में बोले अमित शाह 23 मई को होगा दुर्गा पूजा सा माहौल

अमित शाह ने रैलियां रद्द करने पर साधा ममता पर निशाना

पश्चिम बंगाल / जयनगर। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह सातवे चरण का चुनाव प्रचार करने पश्चिम बंगाल के जयनगर पहुंचे। जहाँ उन्होंने ममता बैनर्जी पर जमकर सियासी तीर चलाएं है। शाह ने अपनी तीन रैलियां कैंसल होने पर भी ममता बैनर्जी पर तीखा हमला बोलै है। शाह ने उन्हें अपने दौरे से डरने वाली नेता बताया है। अपने भाषण के शुरुवात में भी अमित शाह ने जय श्रीराम के नारे लगाकर बंगाल सरकार के खिलाफ़ हुंकार भरते हुए कहा कि मैं इस मंच से जय श्रीराम बोल रहा हूं और यहां से कोलकाता जाने वाला हूं। ममता दीदी हिम्मत हो तो गिरफ्तार कर लेना।

अमित शाह                    शाह ने कहा कि आज उन्हें अपने चुनाव प्रचार के लिए 3 जगह जाना था, पर नहीं जा पाउँगा। उन्होंने कहा जयनगर में तो आ गया मगर दूसरी जगह ममता दीदी के भतीजे की सीट थी। वहां पर हमारे जाने से ममता जी डरती हैं कि भाजपा वाले इकट्ठे होंगे तो भतीजे का तख़्त उल्टा हो जाएगा इसलिए उन्होंने हमारी सभा की परमिशन कैंसिल कर दी। शाह ने अपना हमला ज़ारी रखते हुए कहा बंगाल में ममता दीदी, मोदी जी की सरकार की किसी भी योजना का लाभ नहीं मिलने देती, क्योंकि ममता दीदी मानती हैं कि अगर ये योजनाएं यहां शुरु हुई तो मोदी जी यहां और ज्यादा लोकप्रिय हो जाएंगे। बंगाल की जनता ने तय किया है की वो इस बार 23 से ज्यादा सीटें हमारे नेता मोदी जी की झोली में डालने जा रहे हैं।

अमित शाह23 मई को होगा दुर्गा पूजा सा माहौल
अमित शाह ने कहा ममता दीदी मानती हैं कि उन्हें घुसपैठियों के वोट चाहिए। ममता दीदी के राज में दुर्गा पूजा की अनुमति नहीं मिलती, सरस्वती पूजा करने पर उनके गुंडे मारपीट करते हैं। 23 मई को जो मतगणना होने वाली है उसके लिए 19 मई को ममता का तख़्त पलट दीजिए। मैं गारंटी देता हूं पूरे बंगाल में शान के साथ फिर से दुर्गा पूजा हो सके ऐसा माहौल यहां भाजपा की सरकार बनाएगी।

बंगाल में बंगाली की होगी वापसी
शाह ने कहा कि बंगाल के इस्लामपुर में ममता दीदी ने उर्दू के शिक्षक भेज दिए। लोगों ने जब उर्दू में पढ़ने का विरोध किया तो पुलिस भेज दी, पुलिस के अत्याचार से हमारे दो कार्यकर्ताओं की मौत हो गई। जबकि वो बस ये मांग कर रहे थे कि यहां बंगाली भाषा में पढ़ाई होनी चाहिए। अगर बंगाल के अंदर बंगाली भाषा को फिर से प्रस्थापित करना है, तो आपको कमल के निशान का बटन दबाकर भाजपा को जिताना पड़ेगा। बंगाल में ममता दीदी के राज में एक भी नई फैक्ट्री, नया कारखाना नहीं आया है। यहां सिर्फ बम बनाने के कारखाने बने हैं।