प्रज्ञा के समर्थन में अनिल, कहा-बचाव के लिए वार करना गलत नहीं

जैन ने कहा महिला नहीं एक अपराधी का साथ दे रहे सीएम भूपेश

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के प्रज्ञा ठाकुर पर दिए गए बयान पर भाजपा ने तीखा पलटवार किया है। मुख्यमंत्री के बयान के बाद भाजपा के प्रदेश प्रभारी डॉ अनिल जैन ने मुख्यमंत्री पर छेड़छाड़ के आरोपी को शय देने की बात कही है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल                      अनिल जैन ने कहा कि किसी लड़की पर यदि कोई अत्याचार हो रहा है, उसे बचने के लिए वह भी बचाव के लिए वार करती है तो इसमें कोई गलत बात नहीं है। लेकिन मुख्यमंत्री ने संज्ञान में ना लेते हुए छेड़छाड़ के आरोपी को ही साथ देना उचित समझा बल्कि एक महिला का साथ नहीं दिया। सीधे तौर पर अनिल जैन प्रज्ञा ठाकुर को बचाव में मोर्चा सम्हाले दिखाई दिए। जैन ने प्रज्ञा के राम मंदिर को लेकर दिए गए बयान के बारे में कोई जवाब नहीं दिया। बल्कि सियासी पैतरा अपनाते हुए जैन ने कहा कि भाजपा अभी फिर से सरकार में आती है तो नियमानुसार कोर्ट की अनुमति लेकर ही उसी स्थान पर राम मंदिर बनाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि पिछली सरकार के समय कपिल सिब्बल ने ही याचिका लगाकर राम मंदिर बनाने में देरी करवाई थी। वहीं जब पत्रकारों ने प्रज्ञा के बाबरी मस्जिद पर दिए बयान पर अनिल जैन से प्रश्न पूछा तो उन्होंने प्रश्न को ही दरकिनार कर दिया और साफ तौर पर कहा कि इस बयान की उन्हें कोई भी जानकारी नहीं है।

ये था सीएम भूपेश का बयान
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी साध्वी प्रज्ञा पर जुबानी वार करते हुए प्रज्ञा ठाकुर को आदतन अपराधी बताया था। सीएम भूपेश ने साल 2001 में प्रज्ञा द्वारा बिलाईगढ़ में चाकूबाजी करने की बात मीडिया से साझा की है। भूपेश बघेल ने कहा कि प्रज्ञा ठाकुर का आदतन अपराधी जैसा व्यवहार शुरू से ही रहा है। वह झगड़ालू प्रवृत्ति की होने के कारण बेवजह भी मारपीट और थोड़ी-थोड़ी बातों पर झगड़ा करती रहती है।