ऑस्ट्रेलिया के जंगल में आग से मरने वालों की संख्या 22 हुई

सिडनी। ऑस्ट्रेलिया में जंगलों में लगी आग से शनिवार को एक और व्यक्ति की मौत होने के बाद मरने वालों की संख्या बढ़कर 22 हो गई। अभी तक सैकड़ों घर जलकर राख हो चुके हैं, जिसके बाद प्रशासन आग से होने वाले नुकसान का आकलन कर रहा है। देश के दक्षिण भाग में जंगलों में अभी भी आग जल रही है। न्यू साउथ वेल्स (एनएसडब्ल्यू), विक्टोरिया और साउथ ऑस्ट्रेलिया प्रांतों में शनिवार को तेज हवाओं से आग और बढ़ गई है और यहां तापमान 40 डिग्री से अधिक है।

सबसे ज्यादा तापमान पश्चिमी सिडनी के पेनरिथ में 48.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

एनएसडब्ल्यू के प्रीमियर ग्लेडिस बेरिजिक्लियान ने पुष्टि करते हुए कहा कि सिडनी से लगभग 460 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम दूर बाट्लो कस्बे के निकट एक व्यक्ति की हृदयाघात से मौत हो गई। वह अपने पड़ोसी के घर में लगी आग बुझा रहा था।

इसके साथ ही सितंबर के बाद से जंगली आग से मरने वालों की संख्या 22 हो चुकी है। इनमें से 13 लोगों की मौत तो सिर्फ 2019 के अंतिम सप्ताह के बाद से अब तक ही हुई है।

बेरिजिक्लियान ने यहां संवाददाताओं से कहा, “आज हमारा फोकस सिर्फ आग पर नियंत्रण करना और लोगों को बचाना नहीं, बल्कि नुकसान की भरपाई पर भी है।”

दक्षिणपूर्वी ऑस्ट्रेलिया में पिछले सप्ताह लगभग 500 घर जलकर राख हो गए। इसके साथ ही सितंबर के बाद से जलकर नष्ट हुए घरों की संख्या 1,500 हो गई और इसकी अनुमानित कीमत 43 करोड़ ऑस्ट्रेलियाई डॉलर (29.9 करोड़ डॉलर) है।

एनएसडब्ल्यू रूरल फायर सर्विस के प्रमुख शेन फिट्जसिमन्स ने कहा, “हमें लगता है कि कल (शनिवार) को आग के कारण सैकड़ों घर नष्ट हो गए।”

उन्होंने कहा कि तापमान गिर गया था, जो अस्थायी राहत है।