मुस्लिम सहकर्मी का समर्थन करने पर BHU प्रोफेसर पर हमला

क्लास में घुसकर धमकाया, कहा- समर्थन देना बंद करे...

वाराणसी (आईएएनएस)| बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में एक संस्कृत प्रोफेसर पर कथित रूप से छात्रों ने इसलिए हमला किया, क्योंकि प्रोफेसर ने अपने मुस्लिम सहकर्मी, फिरोज खान का समर्थन किया, जिनकी सहायक प्रोफेसर के रूप में विभाग में नियुक्ति को लेकर छात्र विरोध करते आ रहे हैं। यह दलित प्रोफेसर संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान (एसवीडीवी) विभाग में एक वरिष्ठ संकाय सदस्य हैं, जहां खान को नियुक्त किया गया है। सोमवार को हुई इस घटना के बाद प्रोफेसर शांतिलाल साल्वी ने यहां संवाददाताओं को बताया, “मैं एक कक्षा में बैठा था जब कुछ छात्रों ने अंदर घुसकर मेरे साथ अभद्र भाषा में गाली-गलौज शुरू कर दी। उन्होंने मुझसे संकाय में एक मुस्लिम की नियुक्ति का समर्थन करना बंद करने को कहा।” उन्होंने कहा, “मैं असुरक्षित महसूस करने लगा और बाहर आ गया। तब कुछ छात्रों ने मुझ पर पत्थर फेंके और बाद में मेरे साथ धक्का-मुक्की की। मैं बच गया क्योंकि एक अजनबी ने मुझे अपनी स्कूटी पर लिफ्ट दे दी।”

साल्वी ने आरोप लगाया कि एक सहकर्मी ने ही छात्रों को उकसाया था, लेकिन मीडिया के सामने उसका नाम नहीं लेंगे। उन्होंने कहा, “मैंने विभाग के एक प्रोफेसर और कुछ छात्रों के खिलाफ कुलपति राकेश भटनागर से शिकायत की है।” एक छात्र, जो साल्वी को निशाने पर लेने वाले समूह का हिस्सा था, उसने कहा कि उन्होंने केवल प्रोफेसर से खान का समर्थन करना बंद करने के लिए कहा था और उन पर कभी हमला नहीं किया। संस्कृत विद्या धर्म विभाग के कुछ छात्र इस आधार पर खान की नियुक्ति का विरोध कर रहे हैं कि एक मुसलमान हिंदू धर्म ग्रंथों को नहीं पढ़ा सकता है, जिसमें विभाग का पाठ्यक्रम शामिल है।

ऐसी अटकलें हैं कि एक समझौते के रूप में खान को आयुर्वेद विभाग के तहत आने वाले संहिता और संस्कृत विभाग में या कला संकाय के संस्कृत विभाग में स्थानांतरित किया जा सकता है। वह 29 नवंबर और चार दिसंबर को दोनों विभागों द्वारा आयोजित साक्षात्कारों में उपस्थित हुए थे। इस बीच, खान की नियुक्ति के एक दिन बाद आठ नवंबर से संस्कृत विद्या धर्म विभाग में कोई कक्षाएं नहीं हुई हैं। चीफ प्रॉक्टर ओ.पी.राय ने सोमवार को प्रदर्शनकारी छात्रों से मुलाकात की और कहा कि खान की नियुक्ति पर जल्द ही विश्वविद्यालय की कार्यकारी परिषद में चर्चा होगी। विरोध प्रदर्शन के कारण सेमेस्टर परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई हैं। प्रॉक्टर ने संवाददाताओं से कहा, “विभाग में सेमेस्टर परीक्षा की अगली तारीख जल्द ही घोषित की जाएगी।”