Big News : डॉ. प्रमोद कुमार मिश्रा बने प्रधानमंत्री के चीफ़ सेक्रेटरी

डॉ. प्रमोद कुमार मिश्रा ने कृषि और आपदा प्रबंधन में निभाई है महती भूमिका

 

नई दिल्ली। डॉ. प्रमोद कुमार मिश्रा को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नए चीफ सेक्रेटरी के रूप में नियुक्त किया गया है। आज से ही वे अपना कार्यभार भी सम्हालेंगे। 1972 बैच के गुजरात कैडर के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी मिश्रा, इसके पहले प्रधान मंत्री के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी थे।


ओडिशा के संबलपुर में जन्मे प्रमोद कुमार मिश्रा ग़ुजरात काडर के आईएएस हैं। चीफ़ सेक्रेटरी बनने के बाद उन्हें कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त होगा। मिश्रा को प्रधानमंत्री मोदी का विश्वसनीय अधिकारी माना जाता है। इसके पहले की सरकार में उन्हें मिशन क्लीन गंगा का भी प्रभार दिया गया था। वह 2001 से 2004 तक गुजरात में मोदी के मुख्यमंत्रित्व काल में प्रमुख सचिव व फिर मुख्य सचिव पद पर काम कर चुके हैं। उनकी कार्यशैली से खुद मोदी बहुत प्रभावित हैं।

मिश्रा दिसंबर 2006 से 31 अगस्त 2008 तक शरद पवार के कृषि मंत्रालय में राष्ट्रीय कृषि विकास कार्यक्रम और राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन की जिम्मेदारी सम्हाल चुके है। इसके आलावा मिश्रा ने नेशनल कैपिटल रीजन प्लानिंग बोर्ड के मेंबर सेक्रेटरी और राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन के सचिव जैसे कई महत्वपूर्ण पदों पर अपनी जिम्मेदारियां निभाई है। IAS मिश्रा ने इंग्लैंड में ससेक्स विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र / विकास में पीएचडी की है, उन्हें आपदा प्रबंधन और आपदा जोखिम में कमी लाने के लिए संयुक्त राष्ट्र के प्रतिष्ठित ससाकावा पुरस्कार से सम्मानित भी किया गया है।

पीके सिन्हा बने सलाहकार
सरकार ने यह भी पुष्टि की कि प्रधान मंत्री कार्यालय में विशेष कर्तव्य (OSD) पर अधिकारी के रूप में कार्य करने वाले पीके सिन्हा को प्रधान मंत्री के सलाहकार के रूप में नियुक्त किया गया है। प्रधानमंत्री के निवर्तमान प्रधान सचिव, नृपेंद्र मिश्रा, एक यूपी कैडर के अधिकारी हैं, जिन्होंने भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण के अध्यक्ष, भारतीय दूरसंचार सचिव और उर्वरक सचिव जैसे पदों पर कार्य किया।