Big News : दिल्ली में भीषण आग, 43 की मौत, मदद की अपील…

सोनिया गांधी स्तब्ध, सहायता के लिए की अपील

नई दिल्ली। दिल्ली के रानी झांसी रोड बाजार में रविवार को आग लगने से कम से कम 43 लोगों की मौत हो गई, जबकि एक दर्जन से अधिक लोग घायल हुए हैं। यह जानकारी राष्ट्रीय राजधानी के अग्निशमन विभाग ने दी। घटना में मरे लोग मजदूर है, जो कारखाने में रविवार सुबह 4:30 – 5 बजे के आस पास लगी आग के दौरान सो रहे थे। घटना के बाद अब तक 60 से अधिक लोगों को वहां से निकाला जा चुका है, और उन्हें लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल और लेडी हॉर्डिग हॉस्पिटल में ले जाया गया है। एलएनजेपी अस्पताल में 34 और लेडी हाडिर्ंग अस्पताल में नौ लोगों के मरने की सूचना मिली है।

अग्निशमन विभाग ने बताया कि बाजार में आग लगने की सूचना उन्हें सुबह करीब 5.22 पर मिली, जिसके बाद 25 दमकल गाड़ियां मौके पर पहुंच गईं। आग लगने की वजह का पता नहीं चल पाया है, लेकिन अधिकारियों का कहना है कि आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लग सकता है। दिल्ली अग्निशमन विभाग के प्रमुख अतुल गर्ग ने कहा कि, आग लगने से करीब 40 लोगों की मौत हो गई, आग एक बैग बनाने वाले कारखाने लगी है, वहीं आग आसपास की दो अन्य इमारतों में फैल गई है। मरने वालों की संख्या बढ़ने की आशंका है। वहीं पुलिस ने बताया कि कारखाने के मालिक के खिलाफ आवासीय क्षेत्र से बैग बनाने के कारखाने के संचालन और सुरक्षा मापदंडों का पालन न करने को लेकर मामला दर्ज कर लिया गया है।

ऐसा बताया जा रहा है कि यह अग्निकांड, दिल्ली में आग लगने की सबसे बड़ी घटनाओं में से एक है। इससे पहले 13 जून, 1997 को दक्षिणी दिल्ली के ग्रीन पार्क इलाके में स्थित उपहार सिनेमा में ऐसी ही घटना घटी थी, जिसमें 59 लोगों की जान चली गई थी और 100 से अधिक लोग घायल हुए थे।

शाह ने कही हर संभव मदद की बात
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने इस घटना को दुखद बताया और संबंधित अधिकारियों को हरसंभव मदद उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। शाह ने ट्वीट किया, “नई दिल्ली में लगी आग की दुर्घटना में जानमाल का भारी नुकसान हुआ है। अपने प्रिय परिजन को खोने वाले परिवारों के साथ मेरी गहरी संवेदना है। मैं घायलों के जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं। संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे हर संभव सहायता तत्काल उपलब्ध कराए।”

सोनिया गांधी ने की मदद की अपील
कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने राष्ट्रीय राजधानी के अनाज मंडी में एक कारखाने में रविवार अल सुबह लगी भीषण आग पर अपनी संवेदनाएं प्रकट की है। कांग्रेस द्वारा जारी किए गए बयान के अनुसार, सोनिया ने हताहतों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की। उन्होंने कहा कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि अधिकारी अन्य लोगों की जान बचा लेंगे और घायलों को तत्काल उपचार सुविधा दी जाएगी। उन्होंने भाजपा की केंद्रीय सरकार और आम आदमी पार्टी की राज्य सरकार के अधिकारियों से पीड़ितों और उनके परिवारों को हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने का अनुरोध किया। इसके साथ ही पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष ने कांग्रेसी नेताओं और कार्यकर्ताओं को बचाव और राहत कार्यों में अधिकारियों की मदद करने का भी निर्देश दिया है।