केंद्र का बजट सत्र : एयर इंडिया और एएआई पर अफसरों को खास निर्देश

इसी महांत से शुरू होगा बजट सत्र, फरवरी में पेश होगा बजट

नई दिल्ली। मंत्रालयों ने जनवरी के अंतिम सप्ताह में शुरू होने वाले बजट सत्र की पहली छमाही के साथ ही अधिकारियों से संसद के सदस्यों (सांसदों) के संभावित सवालों के जवाब के लिए कमर कसने के लिए तैयार रहने को कहना शुरू कर दिया है। एक अधिकारी ने कहा, “इस माह के अंतिम हफ्ते से संसद का सत्र शुरू हो सकता है। मंत्रालय के विभिन्न वर्गो को एक एडवाइजरी दी गई है।” नागरिक उड्डयन मंत्रालय की ओर से जारी एक परिपत्र में अधिकारियों से कहा गया है कि उन विवादों और सवालों को तैयार करें, जिसे सांसदों द्वारा उठाया जा सकता है। राष्ट्रीय वाहक ‘एयर इंडिया’ और एयरपोर्ट एजेंसी ‘एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया’ (एएआई) को नियंत्रित करने वाले मंत्रालय को निजीकरण के आसपास के संभावित सवालों का जवाब देने पड़ सकते हैं।

सूत्रों ने कहा कि बजट सत्र संसद के संयुक्त बैठक में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद के अभिभाषण के साथ शुरू होगा और आर्थिक सर्वेक्षण उसी दिन पेश किए जाने की संभावना है। साथ ही ये सत्र अप्रैल तक जारी रहने की संभावना है। बजट सत्र में आम तौर पर लगभग एक महीने का ब्रेक होता है, जिसके दौरान विभाग से संबंधित स्थायी समितियां अनुदान की मांग पर चर्चा करती हैं।

इस साल सरकार इनकम टैक्स में रियायत, महंगाई पर राहत, अर्थव्यवस्था में सुधार, बेरोजगारी, इंफ्रास्ट्रक्चर जैसे कई अहम मसलों पर चर्चा कर अपना बजट तैयार करेंगी। साल 2020 के बजट से आम जनता को कितनी राहत मिलेगी और कारोबारी के कारोबार को कितना सपोर्ट ये बजट कर्त पारा है इस बात का खुलासा तो 01 फरवरी को निर्मला सीतारमण द्वारा बजट पेश करने के बाद ही हो पाएगा।