नहीं थम रहा कोटा के अस्पताल में बच्चों की मौत का सिलसिला

नए साल में आंकड़ा 102 पर

कोटा। राजस्थान के कोटा शहर स्थित जेके लोन अस्पताल में बच्चों की मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है। नए साल के पहले दो दिन दो बच्चों की मौत के बाद इसे मिलाकर बच्चों की हुई मौत का कुल आंकड़ा 102 हो गया है। कोटा से लेकर जयपुर से दिल्ली तक बवाल मचा हुआ है। जहां भाजपा ने भी प्रदेश की गहलोत सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि सरकार संवेदनशील है। इस मामले पर राजनीति नहीं होनी चाहिए।

इधर, अस्पताल प्रशासन ने बताया कि दिसंबर 2018 में इसी अस्पताल में 77 बच्चों की मौत हो गई थी। अस्पताल के सुपिरिंटेंडेंट डॉ सुरेश दुलारा ने बताया कि 30 दिसंबर को 4 बच्चों और 31 दिसंबर को 5 बच्चों की मौत हो गई। उन्होंने इसके पीछे वजह बताते हुए कहा कि सभी की मौत जन्म से कम वजन के चलते हुई है।

इस बीच, जेके लोन के बाल रोग विभाग के प्रमुख अमृतलाल बैरवा ने कहा कि वर्ष के अंतिम दो दिनों में जिन आठ बच्चों की मृत्यु हुई, वे समय से पहले प्रसव के थे, न कि डॉक्टरों के हिस्से में कोई खराबी के कारण। बैरवा ने कहा कि नवजातों का वजन बहुत कम था और उनके परिजनों ने भी प्रसव के दौरान उचित निर्देशों का पालन नहीं किया, जिसके कारण गर्भवती माताएं गंभीर हालत में अस्पताल आईं।

जेके लोन अस्पताल ने 2019 में 963 मौतें दर्ज कीं। बहुत हंगामे के बाद बनी समिति ने अपनी रिपोर्ट में निष्कर्ष निकाला कि मौतें अस्पताल में ऑक्सीजन पाइपलाइन की कमी और अत्यधिक ठंड की स्थिति के कारण हुई हैं।

दुलारा ने आगे कहा, “अन्य सरकारी अस्पतालों की तुलना में, यह संख्या काफी कम है। इसके अलावा, एक दिन में एक मौत का मतलब है कि इस अस्पताल में मृत्यु दर गिर रही है, जो पिछले साल दिसंबर में 91 मौतों की गवाह थी।”

राजस्थान सरकार ने दिए जांच के आदेश

राजस्थान सरकार ने मंगलवार को मेडिकल कॉलेज से जुड़े अस्पतालों में सभी मेडिकल उपकरणों के फंक्शनल स्टेटस की जांच का आदेश दिया।

संबंधित पोस्ट

भारत में कोविड-19 से ठीक होने की दर 48.20 प्रतिशत

भारत ने चीन से पैंगोंग झील से अपने सैनिक व संरचनाएं हटाने को कहा

Corona Update : भारत के मोस्ट वांटेड दाउद और उसकी पत्नी संक्रमित निकले

दिल्ली-एनसीआर : डेढ़ महीने में 11वीं बार लगे भूकंप के झटके, बड़े खतरे का संकेत

हांगकांग पर चर्चा को तैयार अमेरिका, चीन ने भारत को दिए सुलह के संदेश

राजस्थान : चुरू में तापमान 49.6 डिग्री, 29 मई से हीटवेब से राहत की उम्मीद

इस्लामोफोबिया : भारत के मुख्यमंत्रियों को बड़ी साजिश से आगाह

LockDown Impact : ऑनलाइन शिक्षा में यूएई की मदद करेगा भारत

भारत को अगला विनिर्माण केंद्र बनाने की योजना : अनुराग ठाकुर

भारत के लिए सुरक्षा परिषद की सीट का चुनावी तंत्र तय होना अभी बाकी

भारत में 8 अरब से अधिक अमेरिकी डॉलर का चीन ने किया निवेश

Corona Update : महाराष्ट्र में सबसे अधिक संक्रमण 1364, 97 मौतें