महागठबंधन विधायकों का लालू से मुलाकात करने का सिलसिला जारी

कल हेमंत सोरेन लेंगे सीएम पद की शपथ

रांची। झारखंड में यूपीए गठबंधन की सरकार बनने जा रही है. 29 दिसंबर को गठबंधन के नेता और झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। इधर 23 दिसंबर को आए परिणाम के बाद से ही यूपीए गठबंधन के विधायक और नेताओं का राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से मिलने का सिलसिला जारी है। इसी कड़ी में शनिवार को कई नेताओं ने लालू प्रसाद यादव से रांची के रिम्स अस्पताल पहुंचकर मुलाकात की। झारखंड विकास मोर्चा के विधायक प्रदीप यादव और झामुमो विधायक मिथिलेश ठाकुर ने लालू प्रसाद से मिलकर उनका स्वास्थ्य जाना। चुनाव परिणाम आने के बाद लालू से मिलने वालों में नामित मुख्यमंत्री हेमंत सोरेने भी शामिल हैं। आपको बता दें कि चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव पिछले दो साल से रांची के रिम्स में इलाजरत हैं।

प्रदीप यादव ने कांग्रेस में शामिल होने वाली बात का किया खंडन
मुलाकात करने के बाद प्रदीप यादव ने प्रेस वालों से कहा कि वो लालू प्रसाद के स्वास्थ्य का हाल चाल लेने आए थें। वो हमेशा से लालू के स्वास्थ्य जानने के लिए आते रहे हैं। उन्होंने कहा कि लालू से इससे पहले उनकी आखिरी मुलाकात चुनाव से पहले हुई थी। प्रदीप यादव ने पत्रकारों से पूछे गए सवालों का भी जवाब दिया। उनसे जब पूछा गया कि क्या वो कांग्रेस शामिल हो रहे हैं, तो उन्होंने कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है, यह सिर्फ अफवाह है। प्रदीप यादव ने कहा कि उनकी पार्टी ने बिना शर्त गठबंधन का समर्थन दिया है और आगे पार्टी मजबूती से गठबंधन को समर्थन देती रहेगी। प्रदीप यादव झाविमो विधायक हैं और उनकी पार्टी से पूर्व मुख्यमंत्री बाबू लाल मरांडी समेत तीन विधायक जीते हैं। वहीं गढवा से जीते झामुमो विधायक मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि वो लालू प्रसाद से आर्शीवाद लेने आए थें। लालू प्रसाद महागठबंधन काफी के वरिष्ठ नेता हैं। मैं पहले उनकी पार्टी में रह चुका हूं और उनसे हमेशा आशीर्वाद लेता रहा हूं।