CPI नेता और पूर्व सांसद गुरुदास दासगुप्ता का निधन

तीन बार राज्यसभा सदस्य रह चुके है गुरुदास

कोलकाता। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई) के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद गुरुदास दासगुप्ता का लंबी बीमारी के बाद आज निधन हो गया है। पार्टी ने यह जानकारी दी है। गुरुदास दासगुप्ता 83 साल के थे। दासगुप्ता के परिवार में पत्नी और एक बेटी है। बताया जा रहा है कि गुरुदास दासगुप्ता पिछले कुछ महीने से फेफड़ों के कैंसर से पीड़ित थे। पश्चिम बंगाल में सीपीआई के सचिव स्वपन बनर्जी ने यह जानकारी दी है। बनर्जी ने कहा, “कोलकाता स्थित अपने निवास पर सुबह  दासगुप्ता का निधन हो गया।

अपने राजनीतिक जीवनकाल में वह तीन बार राज्यसभा और दो बार लोकसभा के सदस्य रहे। उनके परिवार में पत्नी और बेटी हैं। खराब स्वास्थ्य के कारण उन्होंने पार्टी के सभी पद छोड़ दिए थे लेकिन वे भाकपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी परिषद के सदस्य थे। दासगुप्ता पहली बार 1985 में राज्यसभा सांसद बने। इसके बाद 1988 में वह दूसरी बार राज्यसभा के लिए चुने गए। 1994 में तीसरी बार दासगुप्ता को राज्यसभा सासंद चुना गया, हालांकि वह तीन बार राज्यसभा सांसद रह चुके थे। इसके बाद भी 2004 में उन्होंने लोकसभा चुनाव लड़ा और वह जीते भी। इस दौरान वह वित्त समिति और पब्लिक अंडरटेकिंग समिति के सदस्य भी रहे।