मानहानि मामला : राहुल बोले मैं निर्दोष, 10 दिसंबर को अगली सुनवाई

सशरीर उपस्तिथ न होने राहुल गांधी की तरफ से दिया गया आवेदन

सूरत। कांग्रेस नेता राहुल गांधी सूरत की एक अदालत के सामने मानहानि के मामलें में पेश हुए। कोर्ट में दायर किए गए मानहानि के मुकदमे में राहुल गांधी ने कोर्ट रम में अपने पर लगे सभी आरोपों को खारिज किया है। उन्होंने कोर्ट में खुद को निर्दोष बताया है। दरअसल राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव में कर्नाटक की एक चुनावी रैली में अप्रैल-मई में एक बयान दिया था, जिस मामलें में भाजपा विधायक पूर्णेश मोदी ने कोर्ट में याचिका दाखिल की थी। विधायक ने अपनी याचिका में कहा है कि राहुल के बयान “चुनावी सभा में राहुल ने “सभी चोरों के पास आम उपनाम के रूप में मोदी है” से मोदी समुदाय की भावनाएं आहत हुई है।


इधर राहुल गांधी की तरफ से इस मामले में भविष्य की अदालती कार्यवाही में सशरीर उपस्तिथि में स्थायी छूट के लिए भी एक आवेदन भी दायर किया है। जिस पर अदालत ने 10 दिसंबर को आवेदन के जवाब ेने की बात कहीं है।हालांकि अदालत ने ये भी कहा कि राहुल को उस सुनवाई के लिए अदालत में उपस्थित होने की आवश्यकता नहीं थी।

सूरत पहुंचने से पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज सुबह ट्वीट किया “मैं आज सूरत में अपने राजनीतिक विरोधियों द्वारा मेरे खिलाफ दायर मानहानि के मुकदमे में पेश होने के लिए बेताब हूं। मुझे चुप कराने के लिए मैं यहां एकत्र हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं के प्यार और समर्थन के लिए आभारी हूं।”