दिल्ली पुलिस ने की व्हाट्सएप्प ग्रुप ‘यूनिटी अगेंस्ट लेफ्ट’ के 37 सदस्यों की पहचान

जेएनयू हिंसा में इस व्हाट्सएप्प ग्रुप की संलिप्तता का संदेह

नई दिल्ली : दिल्ली पुलिस ने एक व्हाट्सएप्प ग्रुप ‘यूनिटी अगेंस्ट लेफ्ट’ के सदस्यों की पहचान की है। 5 जनवरी को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के परिसर में में हिंसा कराने के पीछे इस व्हाट्सएप्प ग्रुप के होने का संदेह किया जा रहा है। इस व्हाट्सएप ग्रुप में 60 लोग थे। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की विशेष जांच टीम (SIT) ने 60 में से 37 की पहचान की है। माना जा रहा है कि लगभग 10 लोग जेएनयू के बाहर से हैं।

पुलिस इन व्हाट्सएप्प ग्रुपों के गठन के पीछे की बड़ी साजिश की भी जांच कर रही है। सूत्रों ने बताया कि हिंसा से जुड़े व्हाट्सएप्प ग्रुप वामपंथी समर्थित छात्र संगठनों और भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) से जुड़े थे। पुलिस का मानना है कि दोनों गुटों ने बाहरी लोगों की मदद ली।

जेएनयू परिसर में हिंसा के संबंध में दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार को नौ छात्रों की पहचान संदिग्ध के रूप में की, जिनमें से विश्वविद्यालय छात्रसंघ की अध्यक्ष आइशी घोष सहित सात छात्र वाम संगठनों से जुड़े हैं। एसआईटी के प्रमुख, पुलिस उपायुक्त (अपराध शाखा) जॉय तिर्की ने बताया कि एसएफआई, एआईएसए, डीएसएफ और एआईएसएफ से जुड़े छात्रों ने हाल में शीतकालीन सत्र के लिए ऑनलाइन पंजीकरण शुरू होने पर बवाल काटा था और छात्रों को डराया था। उन्होंने कहा कि ऐसा माना जाता है कि एक व्हाट्सएप्प ग्रुप ‘यूनिटी अगेंस्ट लेफ्ट’ बना है।

 

जेएनयू में पांच जनवरी को नकाबपोशों द्वारा किए गए हमले में 30 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। दिल्ली पुलिस ने जिन लोगों की संदिग्ध के रूप में पहचान की उनमें लेफ्ट संगठनों से जुड़े डोलन सामंता, प्रिय रंजन, सुचेता तालुकदार, आइशी घोष, भास्कर विजय मेच, चुनचुन कुमार (पूर्व छात्र) और पंकज मिश्रा शामिल हैं। वहीं अन्य दो संदिग्धों की पहचान विकास पटेल और योगेंद्र भारद्वाज के रूप में हुई है जो एबीवीपी से जुड़े हैं।

संबंधित पोस्ट

जामिया हिंसा : शादाब और आसिफ पर दिल्ली पुलिस ने लगाया यूएपीए

दोपहर से रात तक दिल्ली-यूपी बार्डर पर लगी रही भीड़, रेंगता रहा ट्रैफिक

Corona Update : दिल्ली पुलिस के 1 आईपीएस सहित 140 से ज्यादा जवान संक्रमित

ब्वायज लॉकर रूम मामला : दिल्ली साइबर सेल के हत्थे चढ़ा ग्रुप का एडमिन

ब्वॉयज लॉकर मामले में जांच की जद में आए छात्र की खुदकुशी

उप्र : दिल्ली पुलिस के रिटायर्ड दारोगा का सिपाही बेटा कर रहा था शराब तस्करी

तबलीगी कांड : मौलाना साद को दिल्ली पुलिस का चौथा नोटिस

भड़काऊ भाषण देने वाले शरजील इमाम पर अब लगा यूएपीए अधिनियम

व्हाट्सएप-ग्रुप के जरिये कोरोना-कर्मवीरों की कुशलक्षेम पूछ रहे पुलिस आयुक्त

..इसलिए हिंदुस्तानी हुकूमत की नजरों में छा गयी दिल्ली पुलिस

Lockdown Impact : पुलिस जिप्सी में बेबी-ब्यॉय ने लिया जन्म

Covid-19 : दिल्ली विश्वविद्यालय ने रद्द की सभी परीक्षाएं