महाराष्ट्र और हरियाणा के साथ चित्रकोट विधानसभा में चुनाव का ऐलान

21 अक्टूबर को मतदान और 24 अक्टूबर को होगा मतगणना

रायपुर | भारत निर्वाचन आयोग ने महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के साथ छत्तीसगढ़ के चित्रकोट विधानसभा सीट के लिये उपचुनाव की तारीखो की घोषणा कर दी है। दोनों राज्यों में अगले महीने 21 अक्टूबर को पोलिंग होगी और इसके तीन दिन बाद 24 अक्टूबर को मतों की गिनती होगी। इसके अलावा अलग-अलग राज्यों की 64 सीटों पर उपचुनाव भी होंगे। चुनाव आयोग ने पहली बार विधानसभा चुनावों और उपचुनावों में प्लास्टिक का इस्तेमाल न करने की अपील की है। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने इसके लिए विशेष दिशा-निर्देश जारी किए हैं। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने राजनीतिक दलों से ईको फ्रेंडली सामग्री का इस्तेमाल करने की अपील भी की है।

छत्तीसगढ़ के चित्रकोट में होगा उपचुनाव
छत्तीसगढ़ में बस्तर क्षेत्र के चित्रकोट विधानसभा सीट के लिये 21 अक्टूबर को उपचुनाव के दौरान मतदान किया जायेगा। वहीं वोटों की गिनती 24 अक्टूबर को की जायेगी। इसी के साथ आज से चित्रकोट विधानसभा में आचार सहिता भी लागू कर दी गयी है। गौरतलब है कि दीपक बैज ने 2018 के विधानसभा चुनाव में भाजपा के लच्छूराम कश्यप को पराजित कर चित्रकोट सीट से जीत दर्ज की थी। लेकिन दीपक बैज के बस्तर क्षेत्र से सांसद बनने के बाद चित्रकोट विधानसभा सीट खाली हो गयी थी। उपचुनाव के ऐलान के साथ ही राजनितिक दलो में सरगर्मियां तेज हो गई है। मन जा रहा है की दंतेवाड़ा में २१ सितंबर को मतदान के बाद ही सभी पार्टियां चित्रकोट उपचुनाव की तैयारी में जुट जाएगी।

कांग्रेस में उम्मीदवार का नाम तय
चित्रकोट में उम्मीदवार को लेकर कांग्रेस चुनाव समिति की बैठक बिते सप्ताह हो चुकी है। चित्रकोट विधानसभा के उपचुनाव के लिए प्रत्याशियों के लिए कयासों का दौर जारी है। कांग्रेस प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने चित्रकोट उपचुनाव में उम्मीदवार के नाम पर फैसला कर लिए जाने की बात कही। हालाकि उन्होने अभी नाम का खुलासा नही किया। शुक्ला की माने तो नाम पर मुहर पार्टी के आलाकमान के द्वारा ही जारी किया जाएगा। चित्रकोट उपचुनाव को लेकर टिकट दावेदारों की लंबी फेहरिस्त थी। जिसमे सासद दीपक बैज की पत्नि पूनम बैज का नाम सबसे उपर था। माना जा रहा है कि कुछ नामों को लेकर कार्यकर्ताओं में नाराजगी थी जिसके चलते अभी से ही प्रत्याशी का नाम कांग्रेस उजागर नही कर रही है। लेकिन कांग्रेस दंतेवाड़ा और चित्रकोट दोनो ही उपचुनाव मे अपनी जीत सुनिश्चित बता रही है।


भाजपा कर रही है जीत का दावा
दंतेवाड़ा उपचुनाव के बाद चित्रकोट उपचुनाव को लेकर भाजपा ने पहले ही सारी तैयारी कर ली है। हालाकि भाजपा के द्वारा चुनाव सामिति की बैठक चित्रकोट पर नही हुई और न ही उस क्षेत्र से किसी ने अपना नाम दिया है। लेकिन सूत्र बताते है कि पूर्व मंत्री महेश गागड़ा और लच्छुराम कश्यप चित्रकोट विधानसभा मे होने वाले उपचुनाव के लिए प्रबल दावेदार है। भाजपा प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कहा कि दंतेवाड़ा की तरह ही चित्रकोट मे अपनी जीत के लिए भाजपा पुरी तरह से तैयार है। अब उम्मीदवार के नाम के ऐलान के साथ ही जीत के लिए रणनीति बनाकर काम शुरू कर देगी। भाजपा का मानना है कि दंतेवाड़ा और चित्रकोट दोनो ही उपचुनाव में भाजपा प्रचण्ड मतों से जीतेगी। साथ ही लोकसभा चुनाव की तरह इस बार बीजेपी ने कांग्रेस का सूपड़ा साफ़ करने का मन बना लिया है। भाजपा का दावा है की आठ महीनो में प्रदेश की जनता का मोह कांग्रेस से पूरी तरह से भांग हो गया है।
दिवाली के पहले ही दोनों राज्यों के साथ ही उपचुनाव वाले क्षेत्र में चुनाव प्रक्रिया संपन्न हो जाएगी। कांग्रेस में भाजपा से सत्ता छिनने में पुरजोर कोशिश में लगी है। अब देखना होगा कि महाराष्ट्र और हरियाणा के साथ साथ उपचुनावों में मतदाता किसे अपना सरताज चुनती हैै।