धारा-19 के तहत होगा राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव, ये है चुनाव अधिकारी

अमित शाह ने घोषित किए चार चुनाव अधिकारीयों के नाम

रायपुर। भाजपा अपने संगठन के संविधान के मुताबिक अपना राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनने लगातार आगे बढ़ रही है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी के चार सांसदों को संगठन के चुनाव की जिम्मेदारी सौपी है। सांसद राधमोहन सिंह, हंसराज अहीर, विनोद सोनकर और सीटी रवि को शाह ने भाजपा के आगामी संगठन चुनावों के लिए चुनाव अधिकारी नियुक्त किया है।

गौरतलब है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव के लिए प्रादेशिक संगठनों के चुनाव संपन्न कराया जाता है। राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव से पहले 50 फ़ीसदी प्रदेश के संगठन के चुनाव पूर्ण किए जाने चाहिए।

भाजपा अपने संविधान की धारा-19 के तहत कराएगी राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव

01 भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव एक निर्वाचक मंडल द्वारा किया जाता है। जिसमें
(क) राष्ट्रीय परिषद की धारा-18 (1) (क) एवं (ख़) में वर्णित सदस्य
(ख़) प्रदेश परिषदों की धारा 16 (1) (क) (ख़) एवं (ग) में वर्णित सदस्य शामिल होते है।

02 चुनाव राष्ट्रीय कार्यकारणी द्वारा निर्धारित नियमों के अनुसार कराया जाएगा।

03 राष्ट्रीय अध्यक्ष वही व्यक्ति हो सकेगा जो कम से कम चार अवधियों तक सक्रिय सदस्य और कम से कम 15 वर्ष तक प्राथमिक सदस्य रहा हो। निर्वाचन मंडल में से कोई भी 20 सदस्य राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के चुनाव की अहर्ता रखने वाले व्यक्ति के नाम का संयुक्त रूप से प्रस्ताव कर सकेंगे। ये संयुक्त प्रस्ताव कम से कम ऐसे पांच प्रदेशों से आना जरूरी है, जहां राष्ट्रीय परिषद के चुनाव संपन्न हो चुके है। नामांकन पत्र पर उम्मीदवार की स्वीकृति आवश्यक होगी।

संबंधित पोस्ट

आपदा के समय मोदी सरकार हर वर्ग के प्रति चिंतित है : अमित शाह

गृहमंत्री अमित शाह बोले- मैं पूरी तरह स्वस्थ हूं, मुझे कोई बीमारी नहीं है

ममता सरकार के रवैये पर बरसे शाह, कहा- मजदूरों की अनदेखी की जा रही 

सोनिया के आरोप का जवाब देते हुए अमित शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधा

Corona Effect : ‘जनता कर्फ्यू’ का सख्ती से पालन करेंगे अमित शाह

दिल्ली हिंसा पर राज्यसभा में चर्चा आज, शाह देंगे आरोपों का जवाब

एमपी में मुरझाएगा कांग्रेस का “कमल…” “सिंधिया” को तख्त या “शिव” का राज

दुनिया की सबसे बड़ी खुदरा फर्म श्रृंखला है पीएमबीजेपी : शाह

अब दुश्मन को घर में घुसकर मार सकता है भारत : अमित शाह

एक-दूसरे पर तीखा हमला बोलने वाले शाह व ममता ने एक साथ किया लंच

नागरिकता कानून नागरिकता लेने का नहीं, देने का कानून – शाह

ओडिशा में ईस्टर्न जोनल काउंसिल की बैठक आज, शाह करेंगे अध्यक्षता