धारा-19 के तहत होगा राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव, ये है चुनाव अधिकारी

अमित शाह ने घोषित किए चार चुनाव अधिकारीयों के नाम

रायपुर। भाजपा अपने संगठन के संविधान के मुताबिक अपना राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनने लगातार आगे बढ़ रही है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी के चार सांसदों को संगठन के चुनाव की जिम्मेदारी सौपी है। सांसद राधमोहन सिंह, हंसराज अहीर, विनोद सोनकर और सीटी रवि को शाह ने भाजपा के आगामी संगठन चुनावों के लिए चुनाव अधिकारी नियुक्त किया है।

गौरतलब है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव के लिए प्रादेशिक संगठनों के चुनाव संपन्न कराया जाता है। राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव से पहले 50 फ़ीसदी प्रदेश के संगठन के चुनाव पूर्ण किए जाने चाहिए।

भाजपा अपने संविधान की धारा-19 के तहत कराएगी राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव

01 भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव एक निर्वाचक मंडल द्वारा किया जाता है। जिसमें
(क) राष्ट्रीय परिषद की धारा-18 (1) (क) एवं (ख़) में वर्णित सदस्य
(ख़) प्रदेश परिषदों की धारा 16 (1) (क) (ख़) एवं (ग) में वर्णित सदस्य शामिल होते है।

02 चुनाव राष्ट्रीय कार्यकारणी द्वारा निर्धारित नियमों के अनुसार कराया जाएगा।

03 राष्ट्रीय अध्यक्ष वही व्यक्ति हो सकेगा जो कम से कम चार अवधियों तक सक्रिय सदस्य और कम से कम 15 वर्ष तक प्राथमिक सदस्य रहा हो। निर्वाचन मंडल में से कोई भी 20 सदस्य राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के चुनाव की अहर्ता रखने वाले व्यक्ति के नाम का संयुक्त रूप से प्रस्ताव कर सकेंगे। ये संयुक्त प्रस्ताव कम से कम ऐसे पांच प्रदेशों से आना जरूरी है, जहां राष्ट्रीय परिषद के चुनाव संपन्न हो चुके है। नामांकन पत्र पर उम्मीदवार की स्वीकृति आवश्यक होगी।

संबंधित पोस्ट

गणतंत्र दिवस पर दी पीएम राष्ट्रपति समेत दिग्गजों ने दी शुभकामनाएं

मोदी-शाह के एजेंडे का विरोधी हर व्यक्ति अर्बन नक्सल : राहुल

अमित शाह का स्थान लिया जगत प्रकाश नड्डा ने

शाह व पटेल की फ्यूजन तस्वीर वायरल, जमकर रोष निकाल रहे यूजर्स

भाजपा के हनी ट्रैप में 52, 72, 000

केरल में 1 लाख लोग इस तरह करेंगे शाह का स्वागत 

दिल्ली में कार्यकर्ताओं से बोले शाह, सभाओं से नहीं मोहल्ला मीटिंग से लड़ेंगे चुनाव

प. बंगाल चुनाव में साल भर बाकी पर ममता को मात देने की तैयारी

हिंदी दिवस : शाह बोले हिंदी के लिए एक जुट हो देश

गुवाहाटी में बोले शाह – असम नहीं देशभर में एक भी घुसपैठठिया नहीं रह पाएगा

ट्रिपल तलाक़ पर बोले अमित शाह-तुष्टिकरण की राजनीति थी तीन तलाक़

अटल बिहारी वाजपेयी की पहली पुण्यतिथि, राष्ट्रपति, पीएम ने दी श्रद्धांजलि