फैशन डिजाइनर शरबरी दत्ता कोलकाता में अपने घर पर मृत पाई गईं

मशहूर बंगाली कवि अजीत दत्ता की बेटी थीं शरबरी दत्ता

कोलकाता| लोकप्रिय फैशन डिजाइनर शरबरी दत्ता गुरुवार और शुक्रवार के बीच की मध्यरात्रि को अपने दक्षिण कोलकाता के ब्रॉड स्ट्रीट आवास के बाथरूम में मृत पाई गईं। पुलिस सूत्रों के अनुसार, दत्ता शुक्रवार की रात करीब 12.15 बजे अपने बाथरूम के अंदर मृत मिली। स्थानीय पुलिस स्टेशन और कोलकाता पुलिस मुख्यालय लालबाजार की होमिसाइड ब्रांच के अधिकारी रात में घटनास्थल पर पहुंच कर जांच में जुट गए।

उनके परिवार के सदस्यों ने कहा कि दत्ता (63) को मंगलवार को रात के खाने के दौरान आखिरी बार देखा गया था। इसके बाद उनसे संपर्क नहीं हो पाया।

प्राथमिक जांच से पता चला कि शौचालय में अचानक दिल का दौरा पड़ने से उनकी मृत्यु हुई होगी। लेकिन दत्ता के परिवार वालों ने कहा कि वह ठीक थी और उन्हें ऐसी कोई पुरानी बीमारी नहीं थी।

कोलकाता पुलिस की होमिसाईड ब्रांच, फैशन डिजाइनर के आकस्मिक निधन के वास्तविक कारण का पता लगाने के लिए जांच करेगी। दत्ता के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

मशहूर बंगाली कवि अजीत दत्ता की बेटी, शरबरी दत्ता पिछले कुछ दशकों से विशेष रूप से पुरुषों के एथनिक परिधानों के क्षेत्र में पोशाक डिजाइनिंग उद्योग में एक लोकप्रिय नाम थीं। दत्ता ने ही रंगीन बंगाली धोती और डिजाइनर पंजाबी (कुर्ता) को मुख्यधारा के फैशन की दुनिया में कढ़ाई के कामों के साथ पेश किया था।

(आईएएनएस)

संबंधित पोस्ट

कोलकाता: प्रवासी श्रमिक के रूप में मां दुर्गा की मूर्ति की फिल्म जगत में तारीफ

कोलकाता : फर्जी वीडियो साझा करने के आरोप में तारिक फतेह नामजद

दीदी ने 2021 के चुनाव के लिए वर्चुअल माध्यम का सहारा लिया

प. बंगाल : चक्रवात अंफान में तेजी, खाली कराए गए तटीय क्षेत्र

मप्र : इंदौर में कार्यरत बंगाल के श्रमिकों की वापसी के लिए ममता को पत्र

कोरोना से बचने के लिए गोमूत्र पीकर बीमार पड़ा शख्स

कोरोनावायरस से बचाने बंगाल भाजपा बांट रही ‘मोदी जी’ का मास्क

कोलकाता में आज अमित शाह, जे. पी. नड्डा, विस चुनाव की बनाएंगे रणनीति

देश की पहली अंडर वाटर और दुनिया की सबसे सस्ती मेट्रो कोलकाता में आज से शुरू

कोलकाता के अस्पताल में संदिग्ध चीनी कोरोना मरीज भर्ती

कोलकाता में 100 करोड़ की हेरोइन के साथ 2 गिरफ्तार

बंगाल : राज्यपाल को जेयू के दीक्षांत समारोह में जाने से रोका गया