जेएनयू में हिंसा से स्तब्ध हूं : केजरीवाल

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में रविवार को हुई हिंसा पर दुख जताया। कुछ नकाबपोश हमलावरों ने जेएनयू परिसर में घुसकर छात्र-छात्राओं और शिक्षकों की पिटाई की। केजरीवाल ने ट्वीट के जरिए कहा, “जेएनयू में हिंसा के बारे में जानकर मैं स्तब्ध हूं। छात्रों पर बर्बरता के साथ हमले किए गए। पुलिस को शीघ्र हिंसा पर लगाम लगाकर शांति बहाल करनी चाहिए। अगर हमारे छात्र विश्वविद्यालय के भीतर सुरक्षित नहीं होंगे तो देश कैसे तरक्की करेगा।”

विश्वविद्यालय परिसर में हुए बवाल में जेएनयू छात्रसंघ की अध्यक्ष आइशी घोष समेत कई छात्र बुरी तरह जख्मी हुए हैं। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एवीवीपी) और वाम दलों से जुड़े संगठन के छात्रों के बीच विश्वविद्यालय परिसर में रविवार की शाम टकराव हुआ। कथिततौर पर मारपीट में बाहरी लोग भी शामिल थे।

घटनास्थल से प्राप्त विजुअल में आइशी घोष के शरीर से काफी खून निकलता देखा जा रहा है। आइशी को कथिततौर पर लोहे की छड़ से उनकी आंख पर हमला किया गया। उनको पास के अस्पताल ले जाया गया है।

जेएनयूएसयू के महासचिव सतीश चंद्र भी घायल हुए हैं और कुछ शिक्षकों पर भी कथिततौर पर हमले किए गए हैं।

संबंधित पोस्ट

दिल्ली : शराब के ठेकों पर भीड़ से नाराज हुए केजरीवाल

दिल्ली में 20 अप्रैल के बाद कोरोना मामलों में गिरावट, मत्यु दर भी कम : केजरीवाल

दिल्ली : कोरोनावायरस के प्रसार रोकने केजरीवाल ने उपायों की समीक्षा की

अरविंद केजरीवाल ने रामलीला मैदान में तीसरी बार सीएम पद की शपथ ली

तीसरी बार मुख्यमंत्री पद के लिए आज शपथ लेंगे अरविंद केजरीवाल

केजरीवाल मॉडल से क्यों उड़ी है भाजपा, कांग्रेस सरकारों की नींद

आप विधायक दल के नेता चुने गए अरविंद केजरीवाल

दिल्ली विस चुनाव : अरविंद केजरीवाल 2 हजार वोटों से चल रहे आगे

नड्डा ने केजरीवाल सरकार पर लगाया 10 घोटाले का आरोप

केजरीवाल के प्रदर्शन से खुश हैं दिल्ली के 58 प्रतिशत लोग

अरविंद केजरीवाल छह घंटे के लंबे इंतजार के बाद अपना पर्चा भरा

जेएनयू हिंसा : व्हाट्सएप्प ग्रुप के फोन जब्त करने के आदेश