उत्तर प्रदेश के कई शहरों में इंटरनेट सेवाएं बंद…

इंटरनेट के अलावा, एसएमएस और मैसेंजर सेवाएं भी ठप्प

लखनऊ (IANS)| लखनऊ सहित उत्तर प्रदेश के कई शहरों में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं। जिन शहरों में पूरी तरह से इंटरनेट बंद हैं, उनमें लखनऊ, बरेली, अलीगढ़, गाजियाबाद, प्रयागराज, संभल, मेरठ, मऊ और कानपुर शामिल हैं। गुरुवार को नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के विरोध के बाद लखनऊ और संभल में हिंसा भड़क उठीऔर सार्वजनिक और निजी संपत्ति के बड़े पैमाने पर विनाश का कारण बना। अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी ने कहा कि 21 दिसंबर की मध्यरात्रि तक बंद रहना जारी रहेगा।

सभी निजी दूरसंचार ऑपरेटरों ने भी सरकारी आदेश के बाद अपनी सेवा बंद कर दी है। ऐसा कई शहरों में शुक्रवार की नमाज के बाद किए गए विरोध प्रदर्शनों के मद्देनजर किया गया है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, गुरुवार देर रात यह पाया गया कि गुरुवार को हुए हिंसक विरोध प्रदर्शन को सोशल मीडिया पर लाइव स्ट्रीम किया जा रहा था, जिससे स्थिति और बिगड़ गई। लखनऊ में एक निजी दूरसंचार कंपनी के प्रबंधक ने कहा, “इंटरनेट के अलावा, एसएमएस और मैसेंजर सेवाएं भी अवरुद्ध हो गई हैं। हम अपने ग्राहकों को इस बारे में सूचित करने की कोशिश कर रहे हैं।”

संबंधित पोस्ट

उप्र : प्रवासी मजदूरों को लेकर सियासत गरम

यूपी, एमपी और गुजरात सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेगा संघ समर्थित भारतीय मजदूर संघ

उप्र : कोरोना योद्धाओं पर हमला किया तो 7 साल जेल, 5 लाख जुर्माना

उप्र : दूल्हा 100 किलोमीटर साइकिल चलाकर पहुंचा शादी करने

उप्र : शहर का हाल देखने पैदल निकल पड़े डीएम, लोग बोले-पुलिस पकड़ लेगी

उप्र : चचेरे भाई ने किशोरी से दुष्कर्म किया

उप्र : राशन खरीदने दुकान गई नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म

उप्र : कोरोना पर आपत्तिजनक पोस्ट करने पर शख्स के खिलाफ मामला दर्ज

उप्र : कोरोना संदिग्ध ने की आत्महत्या

उप्र में डूबकर 2 नाबालिग भाइयों की मौत

उप्र के बांदा में कोरोना का पहला संदिग्ध छात्र आइसोलेशन वार्ड में

उप्र में मानसिक बीमार बच्ची से दुष्कर्म