रोहिंग्या मुसलमानों को ट्रेनिंग दे रहा आईएसआई

भारत पर आतंकी हमले की तैयारी, अलर्ट

नई दिल्ली। पाकिस्तान की इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) बांग्लादेश में जमात-उल मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) की मदद से लगभग 40 रोहिंग्या मुसलमानों को प्रशिक्षित कर रही है, ताकि वे भारत में आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे सकें। इस संबंध में खुफिया एजेंसियों ने गुरुवार को भारतीय सुरक्षाबलों को अलर्ट कर दिया है।

खुफिया एजेंसियों ने कहा, “पाकिस्तान बांग्लादेश सीमा से भारत के खिलाफ एक बड़ी साजिश रच रहा है। बांग्लादेशी आतंकवादी संगठन जमात-उल मुजाहिदीन को पाकिस्तान की आईएसआई से धन मिल रहा है। आईएसआई बांग्लादेश के कॉक्स बाजार में रहने वाले 40 रोहिंग्याओं को आतंकी प्रशिक्षण प्रदान कर रही है।”

एजेंसियों का कहना है कि पाकिस्तान सऊदी अरब और मलेशिया के माध्यम से आतंकी प्रशिक्षण दे रहा है और जेएमबी को आतंकी प्रशिक्षण के लिए पहली किस्त के रूप में एक करोड़ टका की धनराशि मिली है।

खुफिया एजेंसियों ने आगे की जांच के लिए राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के साथ भी यह जानकारी साझा की है।

भारतीय सुरक्षाबलों की मुस्तैदी के बाद जम्मू एवं कश्मीर में नियंत्रण रेखा के माध्यम से आतंकवादियों को देश की सीमा के अंदर प्रवेश नहीं करा पाने पर पाकिस्तान ने रोहिंग्या मुसलमानों को प्रशिक्षण देने की योजना पर काम करना शुरू किया है।

पिछले साल एनआईए प्रमुख वाई. सी. मोदी ने कहा था कि जेएमबी पूरे भारत में अपना जाल फैलाने की पूरी कोशिश कर रहा है।

वाई. सी. मोदी ने कहा था कि जेएमबी ने बांग्लादेशी प्रवासियों की आड़ में झारखंड, बिहार, महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल जैसे राज्यों में अपनी गतिविधियां फैलाई हैं।

(आईएएनएस)