झारखंड चुनाव : मतदान के बीच गुमला में झड़प, नक्सलियों ने भी मचाया उत्पात

झारखंड के पश्चिम सिंहभूम जिले में नक्सलियों का उत्पात

रांची (आईएएनएस)। झारखंड विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में मतदान के दौरान गुमला जिले के सिसई के एक मतदान केंद्र पर पुलिस द्वारा की गई गोलीबारी में एक ग्रामीण की मौत हो गई है, जबकि पुलिसकर्मियों समेत कम से कम छह लोग घायल हो गए हैं। पुलिस के अनुसार, गुमला जिले के सिसई विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्र संख्या 36 पर गड़बड़ी करने के दौरान पुलिस ने गोली चलाई। इस गोलीबारी में एक ग्रामीण की मौत हो गई है। घटना में पुलिसकर्मियों समेत छह लोगों के घायल होने की सूचना है। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि हिंसा के बाद मतदान रोक दिया गया है।

मौके पर पुलिस और जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी पहुंच गए हैं। उन्होंने बताया कि अतिरिक्त पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है। मृतक की पहचान जिलानी अंसारी के रूप में की गई है। घटना के बाद ग्रामीण उग्र हो गए और पुलिस बल पर उन्होंने पथराव कर दिया। इस पथराव में पुलिस जवानों के भी घायल होने की खबर है। इस गांव में भारी संख्या में पुलिस की तैनाती की गई है। कई मतदाताओं का आरोप है कि उन्हें वोट देने से जबरन रोका गया, जिसके बाद लोगों ने यहां पथराव शुरू कर दिया। इधर, चुनाव आयोग ने गोलीबारी की इस घटना पर संज्ञान लिया है और पूरे मामले पर जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी है।

नक्सलियों ने मचाया उत्पात
इधर एक अन्य घटना में झारखंड के पश्चिम सिंहभूम जिले में स्थित एक मतदाता केंद्र जा रहे बस को नक्सलियों ने आग के हवाले कर दिया। पुलिस के अनुसार, नक्सलियों ने बस को पश्चिम सिंहभूम जिले के जोजूहाटू में जला दिया। इस बीच, राज्य निर्वाचन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि सुबह 11 बजे तक 28.51 प्रतिशत मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर चुके है। सुबह सात बजे शुरू हुआ मतदान अपराह्न् तीन बजे समाप्त होगा। जबकि दो विधानसभा सीटों, जमशेदपुर पूर्व और जमशेदपुर पश्चिम के लिए यह शाम पांच बजे समाप्त होगा।

20 सीटों पर 40,000 की फ़ोर्स तैनात
झारखंड में 20 विधानसभा सीटों के लिए कुल 260 उम्मीदवार हैं, जिनकी किस्मत का फैसला 48,25,038 मतदाताओं द्वारा किया जाएगा। इन मतदाताओं में 23,93,437 महिलाएं और 90 तीसरे लिंग के शामिल हैं, बाकी पुरुष मतदाता हैं। मतदान 6,066 मतदान केंद्रों पर हो रहा है, जिनमें से 1,016 शहरी क्षेत्रों में और शेष ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित हैं। पुलिस सूत्रों ने बताया कि दूसरे चरण के मतदान के लिए 40,000 से अधिक सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं।