झारखंड चुनाव : झामुमो-कांग्रेस गठबंधन आगे

झारखण्ड से भाजपा की विदाई तय

नई दिल्ली (IANS)| झारखंड में सरकार बनाने की कोशिश में कांग्रेस कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहती है, क्योंकि प्रदेश विधानसभा चुनाव के ताजा रुझानों में कांग्रेस-झामुमो-राजद गठबंधन को भाजपा के मुकाबले अधिक सीटों पर बढ़त बनी हुई है। कांग्रेस ने पूर्व सहयोगी बाबूलाल मरांडी से बात की है। मरांडी की पार्टी झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक) चार सीटों पर आगे चल रही है। सूत्रों ने आईएएनएस को बताया कि झाविमो ने कांग्रेस नेताओं को अभी तक कोई आश्वासन नहीं दिया है, लेकिन उन्होंने कहा है कि चुनाव के अंतिम परिणाम आने पर ही पार्टी बातचीत करेगी। चुनाव के अंतिम परिणाम आने में अभी देर है, लेकिन अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के नई दिल्ली स्थित मुख्यालय पर पटाखों और ढोल-नगाड़ों के साथ जश्न शुरू हो गया है। हालांकि कांग्रेस के कई नेता बहरहाल सरकार बनाने के लिए 41 सीटों का जादुई आंकड़ा हासिल करने को लेकर पशोपेश में है।

झामुमो 43 सीटों पर आगे
शुरुआती रुझान में भाजपा को नुकसान होता दिख रहा है और महागठबंधन लगातार बढ़त बनाये हुए है. अगर यही ट्रेंड परिणाम में बदला तो हेमंत सोरेन के सिर पर एक बार फिर ताज सज सकता है.रुझानों के मुताबिक बीजेपी ने सत्ता गंवा दी है और उसे 10 सीटों का नुकसान होता दिख रहा है. जेएमएम गठबंधन को रुझानों में 43, बीजेपी को 27, आजसू को 4, जेवीएम को 3 सीटों पर बढ़त मिल रही है. वहीं अन्य के खाते में 4 सीटें आ रही हैं. झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन इस चुनाव में दो विधानसभा सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं. वे दुमका विधानसभा सीट से भाजपा नेता लुईस मरांडी से पीछे चल रहे थे, लेकिन अब वे दुमका और बरहेट दोनों विधानसभा क्षेत्र से आगे चल रह हैं. बरहेट से वे भाजपा के सिमोन मालतो से आगे चल रहे हैं. महेशपुर विधानसभा सीट से स्टीफन मरांडी आगे चल रहे हैं, जबकि निरल पूर्ति मझगांव से आगे चल रहे हैं. नलिन सोरेन शिकारीपाड़ा से झामुमो के उम्मीदवार हैं और वे लगातार बढ़त बनाये हुए हैं. सराईकेला से चंपई सोरेन आगे चल रहे हैं.