झारखंड : दो बच्चियों के साथ दुष्कर्म, महिलाओं का फूटा गुस्सा

दो नाबालिग लड़कियों की बलात्कार के बाद हुई थी हत्या

रांची। झारखंड में दो बच्चियों के साथ हुए दुष्कर्म के ख़िलाफ़ अब स्थानीय महिलाओं का गुस्सा फूटा है। बलात्कार के बाद हत्या किए जाने के खिलाफ में शुक्रवार को डकरा में सैकड़ों स्थानीय महिलाओं ने मौन जुलूस निकाल कर अपना पुलिस के खिलाफ जमकर गुस्सा निकाला है। जुलूस के बाद डकरा के गुरुद्वारा चौक में महिलाओं ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ ज़बरदस्त नारेबाजी की और दोषियों को फांसी देने की मांग रखी।

गौरतलब है कि झारखंड में बलात्कार के दो नाबालिग लड़कियों की हत्या कर दी गई और जंगल में एक 8 वर्षीय लड़का घायल रूप में मिला। यह घटना झारखण्ड के चतरा जिले के पिपरवार थाने के अंतर्गत हुई है। मृतक बच्चों के पिता ने कहा कि उनकी बेटी और बेटा एक अन्य लड़की के साथ 11 दिसंबर को फल खिलाने के लिए जंगल ले गए थे। जिसके बाद कोई भी घर नहीं लौटा। बच्चो के पिता ने स्थानीय पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई और अन्य स्थानीय लोगों की मदद से बच्चों की तलाश शुरू की। अगली सुबह पुलिस घायल हालत में लड़के को खोजने में कामयाब रही। उन्हें स्थानीय अस्पताल ले जाया गया और बाद में राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (RIMS) में रेफर कर दिया गया। मेडिकल रिपोर्ट बताती है कि बच्चे को पथरी हुई थी। वहीं कल 12 दिसंबर को दोपहर में लगभग 3 बजे, लड़कियों को भी पुलिस ने उसी जंगल से बरामद किया। एक लड़की मृत पाई गई जबकि दूसरी ने अस्पताल ले जाते समय दम तोड़ दिया। मामलें की जांच किए जाने पर, यह पता चला कि सोनू नामक एक स्थानीय 18 वर्षीय व्यक्ति ने बच्चों को जंगल से फल देने का वादा किया था। पुलिस ने सोनू मोची को गिरफ्तार कर लिया है। एसपी अखिलेश बरियार ने बताया कि प्रथम दृष्टया यह यौन शोषण और हत्या का मामला लगता है, जिसके ख़िलाफ़ मुकदमा दर्ज किया गया है। अन्य संदिग्धों से भी पुलिस पूछताछ कर रही है।

संबंधित पोस्ट

झारखंड में पत्थलगड़ी का विरोध, अगवा 7 की हत्या

जशपुर से सटे झारखंड में नक्सल हत्या !

गौरी लंकेश हत्या मामले का संदिग्ध झारखंड से गिरफ्तार

सैनिक पति की लाश देख पत्नी ने भी जान दे दी

झारखंडः किसके कितने होंगे मंत्री, कयास जारी

झारखंडः सोरेन के शपथ ग्रहण समारोह में विपक्ष का महाजुटान

सिंहदेव को फिर बड़ी जिम्मेदारी, झारखंड के लिए बनाए गए पर्यवेक्षक

झारखंडः राहुल ने केवल 5 सभाएं कीं और जीत दिलाई मोदी से ज्यादा

झारखंडः कमल की एक पंखुड़ी फिर टूटी

झारखंड : इन पांच कारणों ने छीन लिया रघुवर के सिर से ताज

झारखंड : हिंसा के बीच 18 सीटों पर दूसरे चरण का मतदान समाप्त

Big News : छत्तीसगढ़ कांग्रेस के सह प्रभारी भाजपा में हुए शामिल