कोविड-19 : जामा मस्जिद के इमाम बोले, सरकार के मशविरे पर अमल करें

शिया संप्रदाय ने रद्द की जुमे की नमाज

नई दिल्ली। दिल्ली की सबसे बड़ी मस्जिद ‘जामा मस्जिद’ के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने नमाजियों से कोरोनावायरस को लेकर सतर्कता बरतने की अपील की है। उन्होंने इस नाजुक मौके पर डॉक्टरों और सरकार द्वारा साझा की जा रही जानकारियों पर अमल करने को कहा है। कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने के लिए देशभर में अभी तक कई मंदिर एवं अन्य धार्मिक स्थलों को कुछ समय के लिए बंद किया जा चुका है।

दिल्ली के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने अपनी तकरीर में कहा, “कोरोनावायरस की वजह से आज पूरी दुनिया इस बीमारी के गिरफ्त में है। आज इलाकाई, कौमी और इंसानी बिरादरी को मेडिकल हलकों के हवाले से संदेश दिए जा रहे हैं। मेडिकल के हवाले से, डॉक्टरों और विशेषज्ञों के जरिए आवाम को जो कुछ समझाया जा रहा है, आवाम को उस पर अमल करना चाहिए।”

गौरतलब है कि जामा मस्जिद में ईद के मौके पर एक साथ 20 हजार 20 हजार एक साथ 20 हजार 20 हजार से अधिक लोग नमाज के लिए एकत्र होते हैं। सामान्य दिनों में भी यहां नमाज पढ़ने के लिए लोगों की भारी भीड़ इकट्ठा होती है। इसके अलावा हर शुक्रवार को जुमे की नमाज के दौरान भी लोगों की अच्छी खासी भीड़ जमा मस्जिद में एकत्र होती है।

जामा मस्जिद के शाही इमाम ने कहा, “पूरी दुनिया में बिना किसी हिचक हुकूमतों की जानिब से की जानेवाली हिदायतों पर अमल किया जा रहा है।” उन्होंने यहां स्थानीय लोगों से भी सरकार द्वारा कोरोनावायरस की रोकथाम के लिए जारी किए गए दिशा-निर्देशों को अमल में लाने की अपील की है।”

वहीं, फतेहपुरी की शाही मस्जिद के इमाम डॉक्टर मुफ्ती मुकर्रम ने कहा, “हम यह नहीं कह सकते कि मुसलमान मस्जिदों में न आएं, लेकिन हम यह कहेंगे कि जानकार डॉक्टरों के मशविरे पर अमल करना चाहिए। लोग अपने हाथ साफ रखें। छींकते खांसते समय रुमाल का इस्तेमाल करें।”

वहीं, इमाम मुफ्ती मुकर्रम ने कहा कि इस बीमारी से बचने के लिए परहेज, दवा और खुदा पर भरोसा रखते हुए दुआ की जानी चाहिए।

कोरोनावायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए इससे पहले मुंबई के सिद्धिविनायक मंदिर, शिर्डी के साईं बाबा मंदिर, गुड़गांव के शीतला माता मंदिर समेत देशभर के दर्जनों बड़े मंदिरों में आगंतुकों के प्रवेश पर रोक लगाई जा चुकी है।

कोरोना के प्रकोप के कारण जुमे की नमाज रद्द

शिया संप्रदाय ने कोरोनावायरस के कारण कल शुक्रवार की जुमे की नमाज रद्द कर दी है। ये निर्णय मारजा की सलाह पर लिया गया है जिसे फतवा जारी करने के लिए समाज का अधिकृत सर्वोच्च नेता माना जाता है। यह निर्णय कई मारजाओं के द्वारा संयुक्त रूप से जारी किए गए फतवा के मुताबिक है।

मवानी मलाड के शिया इमाम मौलाना अशरफ इमाम ने आईएएनएस से कहा, “यह पूरे देश के लिए है, क्योंकि कोरोनावायरस फैल रहा है।”

“यह स्वास्थ्य मंत्रालय की सलाह के मुताबिक है और मारजा ने भी ज्यादा लोगों के इकट्ठा होने से परहेज करने को कहा है, इसलिए हमने शुक्रवार की नमाज को रद्द कर दिया है।”

“बुधवार को भारत में 25 नए मामलों की पुष्टि हुई है। दिल्ली, महाराष्ट्र और कर्नाटक में एक-एक लोगों की मौत हो चुकी है।”

दुनिया भर के देश कोरोनावायरस से बचाव के लिए कठोर उपाय कर रहे हैं। इस महामारी के कारण अब तक दुनिया में 8,000 लोग मर चुके हैँ और 2 लाख से ज्यादा मामलों की पुष्टि हो चुकी है।

जुमे की नमाज घर से करें तो बेहतर : फिरंगी महली

लखनऊ ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद राशिद फिरंगी महली ने जुमे की नमाज को लेकर गुरुवार को मशविरा जारी की है। उन्होंने मुस्लिम भाइयों से कहा है कि शुक्रवार की नमाज मस्जिदों में करने से परहेज करें। अगर घर पर ही इबादत करें तो बेहतर रहेगा। ईदगाह के इमाम महली ने कोरोनावायरस को लेकर जारी एडवायजरी में कहा है कि मुस्लिम समुदाय से अपील की है कि मस्जिदों में नमाज अदा करने की बजाय घर पर ही प्रार्थना करें तो बेहतर है।

उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस के प्रकोप को देखते हुए मुस्लिम भाइयों के लिए यह मशविरा जारी किया गया है। उन्होंने कहा कि इस दौरान मस्जिदों में कोई भी जलसा न करवाना ही उचित रहेगा।

उन्होंने कहा, “हमने एक एडवायजरी जारी की है, जिसमें कहा गया है कि लोग मस्जिदों में नमाज अदा करने में परहेज करें। इसकी बजाय लोग घर पर ही नमाज अदा कर सकते हैं। खासतौर से शुक्रवार को होने वाली जुमे की नमाज को लेकर यह अपील की गई है।”

उत्तर प्रदेश में अब तक कोरोनावायरस के 19 मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें आगरा में 8, नोएडा में 4, लखनऊ में 5 व गाजियाबाद में 2 मरीजों की टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है।

लखनऊ में गुरुवार को कोरोनावायरस से संक्रमित दो और मरीजों की पुष्टि हुई है। इससे पहले, केजीएमयू में कोरोना वायरस से ग्रसित मरीजों के इलाज में लगी टीम के एक रेजीडेंट डॉक्टर की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आ चुकी है। इसके साथ ही उनकी टीम के दो अन्य डॉक्टरों में भी कोरोनावायरस के लक्षण दिख रहे थे, जिनके सैंपल लिए गए।

संबंधित पोस्ट

कोरोना महामारी से प्रभावित रणवीर सिंह ने बताए अपने अनुभव

दिल्ली : झुग्गियों में लगी भीषण आग, 250 झोपड़ियां जलकर राख

लॉकडाउन में भटक रहे मासूम को ओडिशा कैडर आईपीएस का सहारा

दिल्ली में फर्जी ई-पास बनाने के मामले का भंडाफोड़, घेरे में कर्मचारी

कोरोना से निजात को लेकर मोदी ने श्रीलंका राष्ट्रपति, मॉरीशस पीएम से की बात

Corona Update : भारत में संक्रमितों की संख्या 1.25 लाख के पार

अंधविश्वास : गांव को कोरोना से बचाने किशोरी ने दे दी अपने जीभ की बलि

कोविड-19 संक्रमितों को थायरॉयड भी संभव

शराब माफियाओं पर भारी पड़ी दिल्ली की पहली महिला आईपीएस

Corona Update : दुनियाभर में आंकड़ा 49 लाख के पार, 3 लाख से अधिक मौत

Corona Update : दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 19 मरे, अब तक 148 मौत

शराब पर लगे विशेष कोरोना शुल्क पर रोक लगाने से इनकार