चीन में 7 दशक में सबसे कम जन्म दर

बीजिंग चीन में 70 साल पहले पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना के गठन के बाद से जन्म दर सबसे कम हो गई है। ऐसा एक बच्चा नीति में ढील दिए जाने के बावजूद हुआ है। चीन के राष्ट्रीय सांख्यिकी ब्यूरो (एनबीएस) ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

बीबीसी ने एनबीएस के हवाले से कहा कि 2019 में जन्म दर प्रति हजार पर 10.48 फीसदी रही। इसमें यह भी कहा गया कि 2019 में एक करोड़ 46 लाख 50 हजार बच्चों का जन्म हुआ।

देश की जन्म दर सालों से गिर रही है, जो दुनिया की दूसरे सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के समक्ष एक चुनौती है।

एनबीएस ने कहा कि जन्म दर गिरने के बावजूद चीन में मृत्यु दर के कम होने से जनसंख्या 2019 में 1.4 अरब हो गई, जो पहले 1.39 अरब थी।

1979 में चीन सरकार ने राष्ट्रव्यापी रूप से ‘वन चाइल्ड पॉलिसी’ शुरू की है। ऐसा जनसंख्या वृद्धि को रोकने के लिए किया गया।

बीबीसी ने कहा कि नियमों का उल्लंघन करने वाले परिवारों को जुर्माना, रोजगार से हाथ धोना पड़ता था और कभी-कभी गर्भपात के लिए मजबूर होना पड़ता था।

लेकिन इस नीति को लिंग असंतुलन के लिए जिम्मेदार ठहराया गया है। 2019 के आंकड़ों के अनुसार पुरुष, महिलाओं से तीन करोड़ से ज्यादा संख्या में हैं।

साल 2015 में सरकार ने वन चाइल्ड पॉलिसी को खत्म कर दिया और दंपतियों को दो बच्चे पैदा करने की अनुमति दी। लेकिन यह सुधार देश में जन्म दर को बढ़ाने में कारगर नहीं रहा है।

(आईएएनएस)