SCO Summit में मोदी ने पाक पर तरेरी आँखें

SCO Summit में बोले मोदी, आतंकवाद के खिलाफ हो एकजुट

बिश्‍केक / एजेंसी। किर्गिस्‍तान के बिश्‍केक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एससीओ सम्मलन को संबोधित किया। जहाँ उन्होंने आतंकवाद पर जमकर आँखे तरेरी है। पीएम मोदी ने एससीओ सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि भारत को SCO के पूर्ण सदस्य के रूप में दो साल हो चुके हैं। हमने SCO की सभी गतिविधियों में सकारात्मक योगदान दिया है। हमने अंतरराष्ट्रीय क्षेत्र में SCO की भूमिका और विश्वसनीयता में वृद्धि के लिए व्यापक इंगेजमेंट जारी रखे हैं।

SCO Summit में मोदी               उन्होंने कहा कि SCO क्षेत्र तथा भारत के इतिहास, सभ्यता और संस्कृति हजारों साल से परस्पर जुड़े हुए हैं। हमारे साझा क्षेत्र और आधुनिका युग में बेहतर कनेक्टिविटी की बहुत आवश्यकता है। पीएम मोदी ने कहा कि इंटरनेशनल नॉर्थ-साउथ ट्रांसपोर्ट कॉरिडोर, चाबाहार पोर्ट और ऐशगाबाद समझौते जैसे इनिशिएटिव कनेक्टिविटी पर भारत के फोकस को स्पष्ट करते हैं। मोदी ने श्रीलंका दौरे का जिक्र करते हुए कहा कि पिछले रविवार श्रीलंका की अपनी यात्रा के दौरान मैं सेंट एंटनी चर्च गया था, जहां पर आतंकियों ने हमला किया था। आतंकवाद को प्रोत्साहन, समर्थन और वित्तीय सहायता प्रदान करने वाले राष्ट्रों को जिम्मेदार ठहराना जरूरी है। हम सभी को आतंक के खिलाफ एकजुट होना चाहिए।

एससीओ सदस्यों ने किया समर्थन
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सम्बोधन का अन्य देशों के राष्ट्राध्यक्षों ने भी समर्थन करते हुए आतंकवाद के ख़िलाफ समर्थन किया। मोदी समेत अन्‍य राष्‍ट्राध्‍यक्षों के संबो‍धन के बाद सम्‍मेलन से जुड़े दस्‍तावेजों पर दस्‍तखत किए गए। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सोरोनबे जीनबेकोव से मुलाकात की। भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता रवीश कुमार ने बताया कि राष्ट्रपति सोरोनबे जीनबेकोव ने एससीओ सम्‍मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का गर्मजोशी से स्‍वागत किया।