ना उम्र की सीमा हो ना जन्म का हो बंधन…

जब प्यार करे कोई तो देखे केवल मन

त्रिशूर (केरल )। कहा जाता है प्रेम और स्वाद की कोई सरहद नहीं होती। ऐसा ही कुछ केरल के एक सरकारी वृद्धाश्रम में नजर आया जब यहां रह रहे दो बुजुर्ग एक –दूसरे को दिल दे बैठे और फिर शादी के बंधन में बंध गए। अपनी 60 वर्ष की आयु में कोचानियन मेनन और लक्ष्मी अम्मल त्रिशूर जिले के रामावर्मापुरम में वृद्ध आश्रम में मिले और उन्हें प्यार हो गया। जैसे ही मेनन (67) और लक्ष्मी (65) के विवाह की शनिवार को ली गई तस्वीरें सोशल मीडिया में वायरल हुईं, लोगों की ओर से उन्हें बधाई संदेश आने लगे।

ट्विटर यूजर्स ने रविवार को ट्वीट कर उनके लिए बधाई संदेश लिखे। एक यूजर ने लिखा, “प्यार को सभी सरहदें पार करने दो।”

लक्ष्मी ने लाल रंग की साड़ी पहन रखी थी और बालों पर चमेली के फूलों का गजरा लगा रखा था। वहीं मेनन पारंपरिक ऑफ-व्हाइट पारंपरिक मुंडू और एक शर्ट पहनी हुई थी।

एक यूजर ने लिखा, “केरल वृद्ध आश्रम का यह पहला विवाह है। कोचानियन वेड्स लक्ष्मी अम्माल..बधाई।” एक अन्य ने लिखा, “प्यार कोई सीमा नहीं देखता, कभी भो हो जाता है।”

द न्यूज मिनट के मुतबिक ये दोनों बीते 30 बरस से एक-दूसरे को जानते थे, लेकिन कुछ बरसों सो एक-दूसरे के संपर्क में नहीं थे। दरअसर कोचानियन कभी लक्ष्मी के पति के सहायक के रुप में काम करता ता जो 21 बरस पहले गुजर गए थे। लंबे अरसे तक रिश्तेदारों के घर पनाह लेने के बाद 2 साल पहेल लक्ष्मी इस वृद्ध आश्रम में रहने आई थी।

वहीं 2 महीने पहले कोचानियन यहां रहने आया था। एक-दूसरे को देखते ही पुरानी यादें लौट आईं, और एक-दूसरे के लिए दिल धड़कने लगा, प्यार हुआ और आखिर दोनों ने शादी करने की ठानी कि उम्र के कुछ ही दिन पर साथ जिएं प्यार से, जिंदादिली से।

संबंधित पोस्ट

प्रकाश जावड़ेकर ने केरल में हथिनी की मौत पर रिपोर्ट मांगी

केरल : कोरोना के 58 नए मामलों में एयर इंडिया के 7 और केबिन क्रू भी शामिल

LockDown Impact : केरल में 140 से अधिक सऊदी नागरिकों को बाहर ले जाएगा विशेष विमान

Corona Effect : क्वारेंटाइन से भागा केरल का आईएएस अधिकारी यूपी में मिला

भारत में कोरोनावायरस संक्रमित लोगों की संख्या 39 हुई

कुवैत के लिए उड़ानें रद्द, केरल हवाईअड्डे पर 170 यात्री फंसे

केरल की युवा शोधार्थी के सपने को किंग खान ने दी उड़ान

साइनाइड किलर के खिलाफ छठा आरोपपत्र दायर

केरल में कोरोनावायरस के दूसरे मामले की पुष्टि, आइसोलेशन में भर्ती

देश की पहली कोरोना पीड़ित केरल की छात्रा को त्रिशूर अस्पताल भेजा गया

बस्तर की डेढ़ दर्जन युवतियां केरल में बंधक

केरल में 1 लाख लोग इस तरह करेंगे शाह का स्वागत