निर्भया के हत्यारों को हैंग टील डेथ, 22 की सुबह सात बजे फांसी

दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने सुनाया फैसला

नई दिल्ली। बहुचर्चित निर्भया कैस की सुनवाई देश की राजधानी दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में मंगलवार को हुई। अदालत ने मामले के चारों दोषियों का डेथ वारंट जारी करते हुए हैंग टील डेश का निर्देश दिया है। सभी चारों दोषियों को 22 जनवरी की सुबह सात बजे फांसी दी जाएगी। निर्भया की मां ने दोषियों की फांसी की सजा के लिए डेथ वारंट जारी करने की मांग की थी। कोर्ट दिल्ली सरकार की उस अर्जी पर सुनवाई कर रहा था, जिसमें निर्भया मामले में चारों दोषियों को फांसी देने के लिए ‘डेथ वारंट’ जारी करने का अनुरोध किया गया था।

गौरतलब है कि दिल्ली में सात साल पहले 16 दिसंबर की रात को एक नाबालिग समेत छह लोगों ने एक चलती बस में 23 वर्षीय निर्भया का सामूहिक बलात्कार किया था और उसे बस से बाहर सड़क के किनारे फेंक दिया था। इस घटना की निर्ममता के बारे में जिसने भी पढ़ा-सुना उसके रोंगटे खड़े हो गए। इस घटना के बाद पूरे देश में व्यापक प्रदर्शन हुए और महिला सुरक्षा सुनिश्चित करने को लेकर आंदोलन शुरू हो गया था।

इस मामले के चार दोषी विनय शर्मा, मुकेश सिंह, पवन गुप्ता और अक्षय कुमार सिंह को मृत्युदंड सुनाया गया। एक अन्य दोषी राम सिंह ने 2015 में तिहाड़ जेल में कथित रूप से आत्महत्या कर ली थी और नाबालिग दोषी को सुधार गृह में तीन साल की सजा काटने के बाद 2015 में रिहा कर दिया गया था।

संबंधित पोस्ट

गुरुग्राम के कंडोमिम्स में क्वारंटीन सेंटर्स होंगे विकसित

सीबीएसई 10वीं व 12वीं के नतीजे 15 अगस्त तक

दिल्ली : झुग्गियों में लगी भीषण आग, 250 झोपड़ियां जलकर राख

लॉकडाउन में भटक रहे मासूम को ओडिशा कैडर आईपीएस का सहारा

दिल्ली में फर्जी ई-पास बनाने के मामले का भंडाफोड़, घेरे में कर्मचारी

शराब माफियाओं पर भारी पड़ी दिल्ली की पहली महिला आईपीएस

Corona Update : दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 19 मरे, अब तक 148 मौत

शराब पर लगे विशेष कोरोना शुल्क पर रोक लगाने से इनकार

किरायेदार छात्रों से मांगा भाड़ा, एफआईआर

Corona Update : दिल्ली पुलिस के 1 आईपीएस सहित 140 से ज्यादा जवान संक्रमित

लॉकडाउन में भी होती रहीं वारदातें, दिन-दहाड़े चली गोली

Lockdown : आपराधिक दुनिया में लिप्त होने लगीं पढ़ी लिखी औरतें