Breaking : पी चिदंबरम कुछ ही देर में कोर्ट में होंगे पेश, अभिषेक मनु सिंघवी करेंगे पैरवी

पी चिदंबरम को आईएनएक्स मीडिया मामलें में किया गया है गिरफ्तार

 

नई दिल्ली। पी चिदंबरम की गिरफ्तारी के बाद आज उन्हें कुछ ही देर में कोर्ट पहुंचेंगे। साल 2007 में एक टेलीविजन कंपनी आईएनएक्स मीडिया में विदेशी निवेश की सुविधा देने का आरोप है, जब वह वित्त मंत्री थे। सीबीआई की टीम दोपहर दो से चार के बीच राउज एवेन्यू कोर्ट में पी. चिदंबरम को पेश करेगी। दिल्ली पुलिस, स्पेशल ब्रांच के अधिकारी इस दौरान सादी वर्दी में अदालत के आसपास ही तैनात कर दिए गए। स्पेशल ब्रांच के सूत्रों के मुताबिक पी. चिदंबरम की तरफ से अभिषेक मनु सिंघवी अदालत में पैरवी करेंगे और सीबीआई की तरफ से अटॉर्नी जनरल बात रखेंगे।


पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम को दक्षिण दिल्ली स्थित उनके निवास से बुधवार देर रात गिरफ्तारी के बाद उन्हें केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) मुख्यालय में रात बितानी पड़ी। चिदंबरम को सीबीआई के “लॉक-अप सूट 3” में रखा गया था, जिसका उद्घाटन 2011 में खुद चिदंबरम ने किया था। उस समय कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार के गृह मंत्री के रूप में चिदंबरम ने ही इस नए भवन की शुरुवात की थी। इस लोकार्पण समारोह में चिदंबरम विशेष अतिथि थे और तत्कालीन प्रधान मंत्री मनमोहन सिंह के मुख्य आतिथ्य में उन्होंने इस भवन और इसकी लॉक-अप सुविधाओं का लोकार्पण किया है।

अल सुबह हुई है पूछताछ
सीबीआई से जुड़े सूत्रों का कहना है कि उसकी पूछताछ आज सुबह शुरू हुई। सीबीआई अब इन्हे अदालत में पेश करने के बाद पूछताछ के लिए ज़्यादा से ज़्यादा दिनों की रिमांड चाहेगई। खबर है कि सीबीआई की तरफ से कोर्ट में अधिकतम 14 दिन की रिमांड लेने की तैयारी की जा रहे है।

ये है पूरा मामला
चिदंबरम पर 2007 में एक टेलीविजन कंपनी आईएनएक्स मीडिया में विदेशी निवेश की सुविधा देने का आरोप है। अपने बेटे कार्ति चिदंबरम के कहने पर वित्त मंत्री रहते उन्होंने ये फायदा पहुंचाया है। चिदंबरम और उनके बेटे का नाम INX के सह-संस्थापक पीटर और इंद्राणी मुखर्जी ने सामने लाया है। इंद्राणी जो वर्तमान में अपनी बेटी शीना बोरा की हत्या के मामले में जेल में हैं। चिदंबरम ने आरोपों से इनकार किया, और कहा कि मामला भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा एक राजनीतिक षड्यंत्र का शिकार है।