फिलीपींस में तूफान ‘फानफोन’ से मरने वालों की संख्या 28 हुई

दो घायल, 12 अन्य लापता

मनीला। फिलीपींस में तूफान फानफोन के कारण कम से कम 28 लोगों की मौत हो गई है, जबकि दो घायल हुए हैं और अन्य 12 लापता हैं। प्रशासन ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, स्थानीय भाषा में उर्सुला नाम से पुकारे जाने वाले तूफान ने बुधवार और गुरुवार को देश के मध्य क्षेत्र में भारी बारिश और 195 किलोमीटर प्रति घंटे तेज रफ्तार हवाओं के साथ दस्तक दी।

पश्चिमी विसायास क्षेत्र के पनाय द्वीप में 19 मौतें हुई और दो लगो घायल हुए, सेबू में एक शख्स की मौत हुई और लेयते, बिलीरन व समार द्वीपों में आठ हुई। इस आंधी तूफान के कारण द्वीपसमूह के उत्तर-पश्चिम में भारी बारिश और बाढ़ आया।

‘नेशनल डिजास्टर रिस्क रिडक्शन एंड मैनेजमेंट’ (एनडीआरआरएमसी) ने कहा कि मंगलवार को 34 यात्री नाव फंसे रहे। फानफोन ने नावों और घरों को नष्ट कर दिया। बाढ़ की स्थिति हो गई। करीब 39,000 लोगों को अस्थायी आश्रयों में वापस जाना पड़ा और लगभग 90 नगरपालिकाओं में बिजली आपूर्ति नदारद है।

तूफान से 60,000 हेक्टेयर से अधिक की फसलें, जैसे चावल, नारियल और मकई भी क्षतिग्रस्त हो गए, जिनकी लागत का अभी भी मूल्यांकन किया जा रहा है।

फिलीपींस में हर साल बारिश के मंौसम के दौरान 15 से 20 तूफान दस्तक देते हैं, जो मई और जून के महीनों के आसपास शुरू होता है और आमतौर पर नवंबर और दिसंबर के बीच खत्म होता है।