नेशनल स्पोर्ट्स डे पर पीएम ने लांच किया Fit India Movement

नेशनल स्पोर्ट्स डे पर पीएम ने बताए अपने फिटनेस के राज

नई दिल्ली। नेशनल स्पोर्ट्स डे पर भारत के प्रधानमंत्री ने फिट इंडिया मूवमेंट को लांच किया है। उन्होंने फिटनेस को एक शब्द न कहकर एक शर्त के रूप में विस्तारित भी किया है। नेशन स्पोर्ट्स डे में पीएम मोदी ने बधाई प्रेषित करते हुए कहा आज के ही दिन हमें मेजर ध्यानचंद के रूप में एक महान स्पोर्ट्स पर्सन मिले थे। अपनी फिटनेस, स्टेमिना और हॉकी से दुनिया को मंत्र मुग्ध कर दिया था। मैं उन्हें नमन करता हूं।

               उन्होंने आगे कहा कि आज के दिन Fit India Movement जैसा Initiative लॉन्च करने के लिए, Healthy India की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठाने के लिए मैं खेल मंत्रालय और युवा विभाग को बहुत-बहुत बधाई देता हूं। मोदी ने कहा कि आज यहां जो प्रस्तुति हुई उसमें हर पल Fitness का कोई न कोई मेसेज था। परम्पराओं का स्मरण कराते हुए, हम अपने आप को किस प्रकार फिट रख सकते हैं, उसका बहुत सुंदर प्रस्तुतीकरण दिया गया।

                  पीएम ने कहा कि खेलों का फिटनेस से सीधा नाता है। लेकिन आज जिस #FitIndiaMovement की शुरुआत हुई है, उसका विस्तार खेलों से भी आगे बढ़कर है। फिटनेस एक शब्द नहीं है बल्कि स्वस्थ और समृद्ध जीवन की एक जरूरी शर्त है। उन्होंने कहा कि फिटनेस हमारे जीवन के तौर तरीकों, हमारे रहन सहन का अभिन्न अंग रहा है, लेकिन समय के साथ फिटनेस को लेकर हममें एक उदासीनता आ गई है। कुछ दशक पहले तक एक सामान्य व्यक्ति के जीवन में शारीरिक गतिविधियां सहज होती थी। तकनीक के आने से शारीरिक गतिविधि कम हो गई है।

घर में रख दिए जाते है गैजेट्स
पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि Technology ने हमारी ये हालत कर दी है कि हम चलते कम हैं। और अब वही Technology हमें बताती है कि आज आप इतने steps चले, अभी 5 हजार Steps नहीं हुए, 2 हजार Steps नहीं हुए। उन्होंने कहा कि कुछ लोग जोश में आकर फिटनेस की बातें भी करते हैं और फिटनेस से संबंधित गैजेट भी खरीदते हैं, लेकिन कुछ दिन बाद वो गैजेट घर के कोने में रख दिए जाते हैं। लोग मोबाइल में फिटनेस ऐप तो रखते हैं, लेकिन कुछ समय बाद उस ऐप का उपयोग ही नहीं करते।

संबंधित पोस्ट

पीएम मोदी ने तोड़ा वाजपेयी का रिकॉर्ड, सबसे लंबे वक्त तक सत्ता में रहने वाले गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री

श्री राम मंदिर : अयोध्या में मोहन भागवत की विशिष्ट उपस्थिति के मायने

चीन के साथ चल रहे गतिरोध के बीच लेह पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी

गरीब कल्याण योजना छत्तीसगढ़ में लागू नहीं होने से कांग्रेस ने जताई नाराजगी

मोदी से राहुल ने पूछा,बताएं चीनी फौज भारतीय जमीन से कब जाएगी

कोरोना संकट की सबसे बड़ी चोट गरीब मजदूर वर्ग पर पड़ी है : प्रधानमंत्री

भिन्न-भिन्न भाषाओं में 100 वाक्य सिखाएगा मोबाइल एप्प

ओडिशा : पीएम मोदी ने 500 करोड़ की सहायता की घोषणा की

सीएम भूपेश का पीएम को पत्र, श्रमिकों और अन्य व्यक्तियों के परिवहन पर रखी ये मांग

मंत्रोच्चारण सहित खुला बद्रीनाथ का सिंहद्वार, सोशल डिस्टेंसिंग का रखा ख्याल

सफर में मिले दर्द को भूलकर सरकारों की तारीफ करते नहीं थक रहे मजदूर

लॉकडाउन के अगले चरण पर संभावित फैसला आज, मोदी करेंगे बैठक