प्रधानमंत्री ने युवाओं से स्थानीय उत्पाद खरीदने की अपील की

साल का आखरी था मन की बात

नई दिल्ली,(आईएएनएस)| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम मन की बात के दौरान रविवार को देश के युवाओं से साल 2022 तक स्थानीय उत्पाद खरीदने का आग्रह किया। ज्ञात हो कि साल 2022 में देश अपनी आजादी का 75वां साल मनाएगा। कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश के कादीपुर की महिलाओं की कहानी बताई कि किस तरह चप्पल बना कर उन्होंने खुद को आत्मनिर्भर बनाया। महिलाओं के स्वयं सहायता समूह ने क्षेत्र में ‘चप्पल प्रोडक्शन प्लांट’ की भी नींव रखी है। इससे न केवल प्लांट में काम करने वाली महिलाओं के लिए आमदनी का रास्ता खुला है, बल्कि ग्रामीणों को भी रोजगार के अवसर मिले हैं।

इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश पुलिस की भी सराहना की कि उन्होंने स्थानीय तौर पर निर्मित चप्पलों को अपने लिए और अपने परिवार वालों के लिए खरीदने की पहल की। प्रधानमंत्री ने कहा, “साल 2022 में हम भारत का 75वां स्वतंत्रता दिवस मनाएंगे। ऐसे में देश के युवाओं से मैं अपील करता हूं कि वे ‘स्वदेशी’ का प्रयोग करें और देश में स्थानीय उत्पादन और रोजगार के अवसर पैदा करने के लिए स्थानीय उत्पादों को खरीदें।”

उन्होंने आगे कहा, “क्या हम अपनी जीवनशैली में स्थानीय उत्पादों को शामिल कर सकते हैं, जिसमें हमारे भारतीय साथियों की मेहनत और पसीना लगा है? मैं आपसे बस दो-तीन साल के लिए ऐसा करने के लिए कह रहा हूं।” इसके साथ ही मोदी ने महात्मा गांधी द्वारा शुरू किए गए स्वदेशी आंदोलन का भी जिक्र किया, जिसने लोगों को स्थानीय उत्पाद खरीदने के लिए प्रेरित किया।