Big Breaking : जन्मभूमि में बनेगा राम मंदिर, मुस्लिमों के लिए देंगे ज़मीन

पांच न्यायाधीशों वाली संविधान पीठ ने दिया फैसला

 

नई दिल्ली। देश के एक धार्मिक और राजनीतिक फ्लैशपॉइंट में एक ऐतिहासिक फैसला आज सुप्रीम कोर्ट की तरफ से दिया गया है। राम मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या में विवादित भूमि को सुप्रीम कोर्ट ने देने का फैसला किया है। साथ ही मुस्लिमों के लिए राज्य सरकार को अलग भूखंड देने का भी सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है।


पांच न्यायाधीशों वाली संविधान पीठ ने सर्वसम्मति से ये फैसला सुनाया। इस फैसले के साथ देश भर में शांति और सुरक्षा के लिए अपील की गई है। ये फैसला अयोध्या में एक शताब्दी पुरानी कानूनी लड़ाई के बाद आया है। कोर्ट ने कहा है कि केंद्र सरकार तीन महीने में ट्रस्ट बनाए। यह ट्रस्ट राम मंदिर का निर्माण करेगा। अयोध्या पर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई फैसला पढ़ते हुए कहा कि 1949 में मूर्तियां रखी गईं थी।

 

संबंधित पोस्ट

उप्र : अयोध्या में बहुप्रतीक्षित राम मंदिर का काम बुधवार से

मप्र : राम मंदिर ट्रस्ट में शामिल नहीं किए जाने से शंकराचार्य नाराज

निर्भया मामले के दोषी की याचिका खारिज

चैत्र नवरात्र में शुरू हो राम मंदिर का निर्माण : विहिप

जिन गांवों से ईंटे आईं वहां राममंदिर बनाएगा विहिप

अयोध्या रेलवे स्टेशन को दिया जाएगा मंदिर जैसा रूप

Big News : राम मंदिर पर फैसला नामंज़ूर, बोर्ड ने कहा – नहीं चाहिए ज़मींन

मंदिर के ट्रस्ट को लेकर वेदांती ने खड़ा किया नया विवाद

कर्नाटक के अयोग्य विधायकों को मिली राहत

…तो अगले आम चुनाव से पहले “राममंदिर तैयार”

सिद्धू पर भड़की भाजपा, कहा-सोनिया गांधी माँगे माफ़ी

अयोध्या फैसला : राजनाथ, शाह, भूपेश समेत नेताओं ने की शांति की अपील