गिरफ्तार डीएसपी देविंदर सिंह को बर्खास्त करने की सिफारिश

जम्मू। जम्मू-कश्मीर के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) मुनीर खान ने आतंकी सांठगांठ के लिए गिरफ्तार किए गए पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) देविंदर सिंह को बुधवार को सेवा से बर्खास्त करने की सिफारिश की है।

सूत्रों ने आईएएनएस को बताया कि श्रीनगर और जम्मू दोनों हवाई अड्डों पर सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की गई है और संवेदनशील प्रतिष्ठानों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए भी सभी उपचारात्मक उपाय किए गए हैं।

सूत्रों ने कहा, “सभी सुरक्षा कर्मचारी, जिनकी ड्यूटी अभी तक हवाई अड्डे पर थी, उन्हें स्थानांतरित कर दिया गया है और उनकी जगह नए कर्मचारियों को लगा दिया गया है।”

श्रीनगर हवाई अड्डे पर दविंदर सिंह के कार्यालय को पहले ही सील कर दिया गया था, ताकि कोई भी सबूतों के साथ छेड़छाड़ न कर सके।

राज्य पुलिस, राज्य खुफिया, अनुसंधान एवं विश्लेषण विंग (रॉ) और खुफिया ब्यूरो (आईबी) के अधिकारी शनिवार को गिरफ्तारी के बाद देविंदर सिंह से पूछताछ कर रहे हैं।

सूत्रों ने कहा कि जब अन्य एजेंसियां गिरफ्तार पुलिस अधिकारी से पूछताछ पूरी कर लेगी, तब एनआईए उसे अपनी हिरासत में लेगी।

सिंह को तब गिरफ्तार किया गया था, जब वह शनिवार को अपनी निजी कार में आतंकवादियों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचा रहा था। पुलिस सूत्रों ने बताया कि गिरफ्तार अधिकारी की गतिविधियां कुछ समय से उनके रडार पर थीं।

सूत्रों ने कहा कि गिरफ्तार अधिकारी पूछताछ करने वाले अधिकारियों के साथ सहयोग नहीं कर रहा है।

सूत्रों ने कहा, “हम उसके आतंकियों के साथ सांठगांठ के पहलुओं को जोड़कर देख रहे हैं। उसके साथ गिरफ्तार किए गए आतंकवादियों से अलग-अलग पूछताछ की जा रही है, ताकि देविंदर सिंह के साथ उनके जवाब को मिलाकर देखा जा सके।”

इस बात में कोई संदेह नहीं है कि देविंदर सिंह की कई वर्ष से आतंकवादियों के साथ सांठगांठ चल रही थी। उसके आतंकवादियों के साथ संबंध शायद तब से हैं, जब वह जम्मू-कश्मीर पुलिस के आतंकवाद विरोधी विशेष अभियान समूह (एसओजी) में तैनात था।