ओडिशा के पुरी में सिपाही ने साथियों के साथ किया गैगरेप

मुख्य आरोपी जीतेंद्र सेठी को गिरफ्तार, अन्य की तलाश में पुलिस

भुवनेश्वर। हैदराबाद और झारखंड में गैंगरेप की घटना को पखवाड़ा भर नहीं हुआ है कि ओडिशा के प्रसिद्ध जगन्नाथपुरी में तीन सिपाहियों ने एक नबालिग से गैंगरेप किया। पुलिस ने 4 के खिलाफ मामला दर्ज कर मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। यह नाबालिग युवती बस स्टैंड पर घर जाने बस का इंतजार कर रही थी। इन आरोपियों ने जबरदस्ती कार में बिछाकर एक सूने घर में ले गए और रेप किया। जहां इस घटना की लोग सोशल मीडिया पर जमकर नाराजगी जता रहे हैं। वहीं कांग्रेस ने इसके विरोध में प्रदर्शन किया है।

पीड़िता के अनुसार वह भुवनेश्वर में रहती है। वह गांव लौट रही थी इसी बीच नींपपड़ा स्टैंड पर उसकी बस छूट गई। वह वहां अगले बस का इंतजार करने लगी। इसी दौरान एक पुलिस वाला पहुंचा और परिचय पत्र दिखाकर घर छोड़ने की बात कही। उसके मना करने के बाद तीन और लोग आ गए और कार में जबरन बिठा लिया और पुरी के एक सरकारी मकान में ले गए। भीतर दो लोगों ने मेरा रेप किया जबकि बाहर दो लोग पहरेदारी कर रहे थे। इसी बीच ये दोनें शराब पीकर सो गए तो खिड़की से मदद की गुहार पर एक आदमी पहुंचा और बाहर निकाला। मैंने इस दौरान एक आरोपी का पर्स और आईडी कार्ड ले लिया और पुलिस के पास पहुंची और सारा वाक्या बताया ।

सेंट्रल रेंज के डीआईजी आशीष कुमार ने बताया कि पीड़िता की शिकायत दर्ज की जा चुकी है। मुख्य आरोपी जीतेंद्र सेठी को गिरफ्तार भी किया जा चुका है, जो पूर्व सिपाही था। उससे पूछताछ की जा रही है। डीआईआजी का कहना है कि जितेंद्र को कुछ दिन पहले ही किसी कारण से निलंबित कर दिया गया था। बाकी के तीन आरोपियों को पकड़ने का प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए दो टीमें भी बनाई गईं हैं। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।