रिटायर्ड हुए रावत, ” सुनील अरोड़ा ” बने मुख्य चुनाव आयुक्त

सुनील अरोड़ा की निगरानी में होगा लोकसभा का चुनाव

नई दिल्ली। चुनाव आयोग की कमान अब वरिष्ठ निर्वाचन आयुक्त से मुख्य निर्वाचन आयुक्त बने सुनील अरोड़ा ने संभाल ली है। अब तक मुख्य निर्वाचन आयुक्त की जिम्मेदारी संभाल रहे ओपी रावत शनिवार को मुख्य निर्वाचन आयुक्त के पद से रिटायर हुए हैं।

जिसके बाद सुनील अरोड़ा को मुख्य निर्वाचन आयुक्त का कार्यभार संभालने का आदेश भारत सरकार ने जारी किया था। अब मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा की निगरानी में राजस्थान और कर्नाटका में होने वाले 7 दिसंबर के विधानसभा चुनाव और साल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव होंगे। गौरतलब है कि वरिष्ठ निर्वाचन आयुक्त के पद पर सुनील अरोड़ा की नियुक्ति 31 अगस्त 2017 को हुई थी। अरोड़ा 1980 कैडर के सेवानिवृत्त आईएएस ऑफिसर हैं।

लोकसभा बड़ी चुनौती
मुख्य चुनाव आयुक्त की ज़िम्मेदारी सम्हालने के बाद सुनील अरोड़ा के सामने लोकसभा का चुनाव निपटाना एक बड़ी चुनौती होगी। हालांकि इसके महज़ पांच दिनों बाद ही दो राज्य राजस्थान और तेलंगाना में मतदान होने है। साथ ही 11 तारीख को कुल पांच राज्यों की मतगणना भी की जानी है। जिसकी तैयारी भी इन्ही की निगरानी और निर्देश पर की जाएगी।

इन पदों पर सम्हाली थी ज़िम्मेदारी
सुनील अरोड़ा साल 1980 बैच के राजस्थान कैडर के आईएएस अधिकारी है। सुनील ने वित्त, कपड़ा एवं योजना आयोग जैसे केन्द्रीय मंत्रालयों एवं विभागों में रहे है। साल 1999-2002 तक नागरिक विमानन मंत्रालय में संयुक्त सचिव, इंडियन एयरलाइंस के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक के पद पर पांच सालों तक काम कर चुके है। साल 1993-1998 तक राजस्थान में मुख्यमंत्री के सचिवऔर साल 2005-2008 के दौरान मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव जैसे पदों पर काम किया है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.