SIT से बोले स्वामी चिन्मयानंद, मैं शर्मिंदा हूँ…

14 दिन के लिए जेल दाखिल हुए चिन्मयानंद

शाहजहांपुर। उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि देश की सियासत में खलबली मचा देने वाले नेता चिन्मयानंद आखिरकार आज गिरफ्तार हो गए। कानून की पढ़ाई कर रही छात्रा से बलात्कार के आरोप में भाजपा नेता चिन्मयानंद की गिरफ्तारी एसआईटी ने की है। जिन्हे कोर्ट ने 14 दिन के लिए जेल भेजा है। इस मामले में यूपी की विशेष जांच दल के मुखिया नवीन अरोड़ा ने पत्रकार वार्ता लेकर इस बात का खुलासा किया है कि चिन्मयानंद ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को कबूल किया है। उन्होंने कहा कि वायरल हुए वीडियो में खुद चिन्मयानंद है, इस बात की स्वीकारोक्ति उन्होंने खुद की है। अरोड़ा ने कहा कि उनकी गिरफ्तारी के बाद वीडियो और ऑडियो की बारीकी से जांच की गई थी, जिसके बाद उनसे पूछताछ की गई। इस पूछताछ के दौरान ही चिन्मयानंद ने टूटकर एसआईटी से कहा कि मैं अपनी गलती पर शर्मिंदा हूं।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से इस मामले पर स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम यानी एसआईटी का गठन किया गया था। जिन्होंने चिन्मयानंद के आश्रम में आज सुबह दबिश देकर उन्हें गिरफ्तार किया। जिसके बाद तत्काल प्रभाव से उन्हें कोर्ट में पेश किया गया था।

73 साल के चिन्मयानंद को गिरफ्तारी से पहले उनके मुमुक्ष आश्रम से अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके वकील के अनुसार, उन्हें लगभग 8:50 बजे गिरफ्तार किया गया था। चिन्मयानंद की वकील पूजा सिंह ने कहा, “उन्हें उनके घर से गिरफ्तार किया गया था। स्वामी-जी एक शांत स्वभाव के व्यक्ति हैं, कोई हंगामा (अराजकता) नहीं था।” चिन्मयानंद वकील द्वारा दायर किए गए जबरन वसूली के एक मामले में पुलिस ने तीन लोगों को भी गिरफ्तार किया है। पुलिस सूत्रों का कहना है कि सोशल मीडिया पर वायरल हुए सोशल मीडिया के वीडियो में कथित तौर पर उस समय के छात्रों को देखा गया था, जब वह लापता थी।