दूरसंचार कंपनियों को सुप्रीम कोर्ट की लगी फटकार

कंपनियों के एमडी को 17 मार्च को अदालत में पेश होने का आदेश

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को सरकार को 1.47 लाख करोड़ रुपये का बकाया नहीं देने को लेकर दूरसंचार कंपनियों को फटकार लगाई है और इन सभी कंपनियों के शीर्ष अधिकारियों को तलब कर यह बताने के लिए कहा है कि बकाये को चुकाने को लेकर शीर्ष अदालत के आदेश का पालन क्यों नहीं किया गया। न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ ने दूरसंचार कंपनियों को चेतावनी देते हुए कहा कि अदालत उनके व सरकारी कर्मचारियों के खिलाफ आदेश नहीं मानने के लिए अवमानना की कार्यवाही शुरू कर सकती है।

शीर्ष अदालत ने भारती एयरटेल, वोडाफोन, एमटीएनएल, बीएसएनएल, रिलायंस कम्युनिकेशन, टाटा कम्युनिकेशन और अन्य कंपनियों के प्रबंध निदेशकों को 17 मार्च को अदालत के समक्ष पेश होने के आदेश दिए।

शीर्ष अदालत ने केंद्र को यह भी निर्देश दिया कि वह तत्काल अपने डेस्क अधिकारी की ओर से पास आदेश को वापस ले, जिसमें दूरसंचार कंपनियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई नहीं करने को कहा गया था।

न्यायमूर्ति मिश्रा ने यह भी कहा कि दूरसंचार कंपनियों ने एक रुपया भी नहीं चुकाया और सरकारी अधिकारी आदेश पर रोक चाहते हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर उस आदेश को एक घंटे के अंदर वापस नहीं लिया गया तो, यह अधिकारी को जेल भेजे जाने योग्य है।

16 जनवरी को, न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा की पीठ ने दूरसंचार कंपनियों को सरकार को एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू(एजीआर) चुकाने के आदेश दिए थे।

–आईएएनएस

संबंधित पोस्ट

सुदर्शन टीवी का मुख्य उद्देश्य मुस्लिम समुदाय को कलंकित करने का : सुप्रीम कोर्ट 

मौजूदा और पूर्व सांसदों व विधायकों के खिलाफ साढ़े 4 हजार मामले लंबित : सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, एमसीआई के पास आरक्षण देने की शक्ति नहीं

सुप्रीम कोर्ट ने अवमानना मामले में प्रशांत भूषण को 1 रुपया जुर्माना किया

परीक्षाओं को रोककर विद्यार्थियों का अहित तो नहीं कर रहे ?

सुप्रीम कोर्ट ने सरकारी कर्मी को 13 साल बाद दिलाई पेंशन

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, प्रशांत भूषण मामले को उपयुक्त पीठ को सौंपा जाएगा

सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण को अवमानना का दोषी माना, सजा पर फैसला बाकी

प्रवासी श्रमिकों के लिए रोजगार योजनाएं बनाए : सुप्रीम कोर्ट

ऐसी व्यवस्था बनाएं कि कोई ठेकेदार बच्चों को काम पर न रख सकें : सुप्रीम कोर्ट

ईरानी महावाणिज्यदूतावास की याचिका सुप्रीम कोर्ट में खारिज

सुप्रीम कोर्ट ने CAA के खिलाफ दायर नई याचिकाओं पर केंद्र को भेजा नोटिस