मजबूत सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली के निर्माण की जरूरत : शी चिनफिंग

संगोष्ठी में चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव का विद्वानों व विशेषज्ञों को संबोधन

बीजिंग। चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव शी चिनफिंग ने विद्वानों और विशेषज्ञों के साथ आयोजित एक संगोष्ठी में जोर देकर कहा कि हमें एक मजबूत सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली का निर्माण कर महामारी की रोकथाम और उपचार क्षमता में सुधार लाना चाहिये। ताकि लोगों के स्वास्थ्य को बनाए रखने की मजबूत गारंटी प्रदान की जा सके।

शी ने कहा कि चीन को संक्रामक रोगों और सार्वजनिक स्वास्थ्य आपात स्थितियों के लिए निगरानी प्रणाली में सुधार करना चाहिए, अस्पष्ट बीमारियों के लिए निगरानी तंत्र में सुधार और रोगों की निगरानी में संवेदनशीलता और सटीकता को बढ़ावा देना चाहिये। शी ने कहा कि न्यू कोरोना निमोनिया रोगियों की रोकथाम में हम ने लोगों के जीवन को प्राथमिकता देकर राष्ट्रीय संसाधनों को जुटाकर बड़े पैमाने पर उपचार करवा दिया और रोगियों के निशुल्क उपचार की गारंटी की।

शी ने जोर देकर कहा कि हमें राष्ट्रीय स्तर पर रोग निवारण और नियंत्रण संस्थानों के निर्माण तथा रोग नियंत्रण टीम के निर्माण को मजबूत करना चाहिये और कई उच्च-स्तरीय सार्वजनिक स्वास्थ्य कालेजों का निर्माण करना चाहिए। चीन संक्रामक रोगों की रोकथाम और नियंत्रण पर कानून और सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकालीन प्रतिक्रिया कानून के निर्माण पर जोर देगा। साथ ही चीन स्वास्थ्य विज्ञान और तकनीक के विकास में अधिक निवेश करेगा और कोर प्रौद्योगिकी अनुसंधान में शक्तियां जुटाएगा।

शी ने यह भी कहा कि चीन अपने अंतरराष्ट्रीय दायित्वों के मुताबिक महामारी विरोधी सामग्री के दुनिया में सबसे बड़े आपूर्तिकर्ता की भूमिका निभाएगा और मानव स्वास्थ्य समुदाय के निर्माण के लिए अपना योगदान पेश करेगा।

( साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग )

संबंधित पोस्ट

चीन ने मुझे बलूच आंदोलन को कुचलने के लिए तैनात किया है : पाक जनरल

चीन ने रमजान के दौरान उइगर मुसलमानों को नहीं दी रोजा रखने की अनुमति

चीन ने भारतीय सेना को सौंपे अरुणाचल से लापता पांचों युवाओं को

चीन ने एलएसी के करीब बैरक, 5जी संरचना का निर्माण शुरू किया

चीन ने पाक को अफगानिस्तान से लगी 5 प्रमुख सीमाएं खोलने को कहा

चीन : कोरोना से लड़ाई में 6 लाख चिकित्सकों ने दिया योगदान

चीन : कोरोना की रोकथाम जुटे रहने के 139 दिन बाद घर लोटे चिकित्सा विशेषज्ञ

भारत ने चीन से पैंगोंग झील से अपने सैनिक व संरचनाएं हटाने को कहा

चीन में 90 लाख लोगों को रोजगार देने का लक्ष्य – यांग वेई मीन

हांगकांग पर चर्चा को तैयार अमेरिका, चीन ने भारत को दिए सुलह के संदेश

एनपीसी वार्षिक सम्मेलन में आर्थिक-सामाजिक कार्य की प्रधानता जाहिर

जिंक, एचसीक्यू, एजिथ्रोमाइसिन का संयोजन दे सकता है कोरोना को मात