फ़िल्मी सितारों का सियासी सफर कुछ हिट तो कुछ रहे फ़्लॉप

दर्जनभर अभिनेताओं की चुनावी साख़ का निकला परिणाम

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में जहां दिग्गज नेताओं ने इस बार अपनी किस्मत आजमाई है। वही कई फिल्मी सितारे भी चुनावी मैदान में उतरे थे। देश भर में ये आंकड़ा तकरीबन दर्जन से ज्यादा है। इस बार के चुनावी मैदान में कई कलाकारों की एंट्री काफी हिट रही है, लेकिन कई कलाकारों को अपनी सियासी जिंदगी की एंट्री फ़्लॉप नजर आ रही है।

हेमा मालिनी
मुंबई से दिल्ली दौड़ के लिए निकले सबसे चर्चित नाम हेमा मालिनी ने एक बार फिर सभी के दिलों में राज कर लिया है। हेमा मथुरा से लोकसभा चुनाव लड़ रही है। वो मतगणना के दौरान पहले दौर से आगे चल रही, उनका मुकाबला कांग्रेस के महेश पाठक से है।

जयाप्रदा
बॉलीवुड की अभिनेत्री जयाप्रदा रामपुर सीट से चुनावी मैदान पर हैं, लेकिन जयाप्रदा आजम खान से पीछे चल रही हैं। गौरतलब है कि आज़म खान और जयाप्रदा के बिच जमकर सियासी बयान बाज़ी का दौर चला था।

उर्मिला मांतोडकर
हेमा के बाद सियासी गलियारों में इस दफ़े सबसे चर्चित नाम में उर्मिला मातोंडकर का है, जो नॉर्थ मुंबई की सीट से कांग्रेस की टिकट पर सियासी मैदान पर हैं। उनके खिलाफ भाजपा से मौजूदा सांसद गोपाल शेट्टी आगे चल रहे हैं।

दिनेश लाल यादव “निरहुआ”
भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार कहे जाने वाले दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ भी सियासी दाव पेंच लड़ाने उत्तर प्रदेश की आजमगढ़ लोकसभा सीट से सियासी मैदान में हैं, लेकिन भोजपुरी फिल्म के सुपरस्टार की यह सियासी एंट्री उन्हें भारी पड़ गई और अखिलेश यादव से निरहुआ 45000 वोटों से पीछे चल रहे हैं।

रवि किशन
भोजपुरी फिल्म के दूसरे सुपरस्टार और हिंदी फिल्म के अभिनेता रवि किशन ने भी इस दफे चुनावी मैदान में दो-दो हाथ किए है। रवि किशन को भाजपा के फायर ब्रांड नेता और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर से टिकट मिली थी। जिसमे रवि किशन 1 लाख से भी ज्यादा वोटों से आगे चल रहे हैं। रवि किशन के खिलाफ कांग्रेस के मधुसूदन त्रिपाठी और महागठबंधन की ओर से राम भुवाल निषाद चुनावी मैदान में उतरे हैं।

मनोज तिवारी
भाजपा की टिकट पर देश की राजधानी दिल्ली से चुनावी अखाड़े में उतरे मनोज तिवारी भी 1 लाख़ वोटों से आगे हैं। मनोज का सामना कांग्रेस नेत्री और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित से है।

सनी देओल
फिल्म में अपने दमदार अभिनय और डायलॉग डिलीवरी के लिए जाने जाने वाले सनी देओल भी पंजाब के गुरदासपुर से चुनाव लड़ रहे हैं। जिसमें सनी देओल तकरीबन 50 हज़ार वोटों से कांग्रेस के सुनील जाखड़ से आगे निकल चुके हैं।

शॉटगन उर्फ़ शत्रुघ्न सिन्हा
सबसे चर्चित और अहम सीट माने जाने वाली पटना साहिब से भाजपा का दामन छोड़ कांग्रेस में शामिल हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री शत्रुघ्न सिन्हा इस बार हार सकते हैं। भाजपा के रविशंकर प्रसाद से शत्रुघ्न सिन्हा पीछे चल रहे हैं।

हंस राज हंस
दिल्ली में ही उत्तर पश्चिमी सीट पर भाजपा से जाने-माने सूफी गायक हंसराज हंस अपना पहला चुनाव लड़ रहे हैं। उनका सीधा मुकाबला आम आदमी पार्टी के गुग्गन सिंह और कांग्रेस के राजेश लिलोठिया से है। इस बार पहली दफा चुनाव लड़ रहे हंसराज हंस भी तकरीबन 1 लाख 10 हज़ार वोटों से आगे चल रहे हैं।

बाबुल सुप्रियों
हंसराज हंस के साथ ही एक मशहूर सिंगर और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो भी आसनसोल से चुनावी मैदान में उतरे थे। जिनके खिलाफ तृणमूल कांग्रेस की प्रत्याशी और बंगला फिल्म की अभिनेत्री मुनमुन सेन ने चुनावी हुंकार भरी थी। इस हुंकार में बाबुल सुप्रीयो ही 60 हज़ार वोटों से आगे चल रहे हैं।

राज बब्बर
फतेहपुर सीकरी लोकसभा से उत्तरप्रदेश कांग्रेस की जिम्मेदारी संभाल रहे राज बब्बर चुनावी मैदान पर डटे हुए हैं। उनका मुकाबला भाजपा के उम्मीदवार राजकुमार चाहर से है। राजकुमार अभिनेता राज बब्बर से 98 हजार से ज्यादा वोटों से आगे चल रहे हैं।

स्मृति ईरानी
इन फिल्मी कलाकारों और टीवी स्क्रीन से लोगो के दिलों में राज करने वाले अभिनेताओं में सबसे अहम सीट है उत्तर प्रदेश के अमेठी की। जहां से पिछले दफा भी चुनाव लड़ चुकी और केंद्रीय मंत्री रही स्मृति ईरानी चुनावी मैदान पर है। स्मृति ईरानी का मुकाबला कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से है। जिसमें स्मृति अभी भी राहुल गांधी से आगे चल रही हैं। मुंबई समेत पूरे देश की नजर इस बार अमेठी की सीट पर टिकी हुई है।