Video : माफी का सवाल ही नहीं उठता, सरकार ध्यान भटका रही : राहुल

ट्वीटर पर पीएम मोदी का वीडियों शेयर कर मांगा जवाब

नई दिल्ली।  कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने झारखंड में एक चुनावी रैली के दौरान की गई अपनी ‘रेप इन इंडिया’ टिप्पणी पर माफी मांगने से शुक्रवार को इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि यह उनका (भाजपा सरकार) मुख्य मुद्दे से ध्यान हटाने के लिए ‘महज एक बहाना’ है। राहुल ने संसद में मीडिया से कहा, “मैंने इतना ही कहा कि प्रधानमंत्री हमेशा ‘मेक इन इंडिया’ की बात करते हैं, लेकिन जब भी हम समाचार पत्र खोलते हैं, पूरे भारत में हमें सिर्फ ‘रेप’ के बारे में पढ़ने को मिलता है। भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) शासित हर राज्य में रेप की खबरें हैं।” ‘रेप इन इंडिया’ वाली टिप्पणी पर माफी मांगने की मांग पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस नेता ने कहा, “माफी मांगने का सवाल ही पैदा नहीं होता, वर्तमान में चल रहे मुख्य मुद्दों से (नागरिक संशोधन विधेयक) ध्यान भटकाने का सरकार का यह प्रयत्न है।”

उन्होंने एक ट्वीट में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला। राहुल ने विवादास्पद नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 के पारित होने के बाद पूर्वोत्तर राज्यों में पैदा हुए हालात के लिए और भारत की अर्थव्यवस्था को नष्ट करने के लिए उनसे माफी की मांग की। केरल के वायनाड से सांसद राहुल ने ट्वीट किया, “पूर्वोत्तर राज्यों को जलाने और भारत की अर्थव्यवस्था को नष्ट करने के लिए मोदी जी को चाहिए कि वह माफी मांगें।”

इससे पहले राहुल गांधी की ‘रेप इन इंडिया’ टिप्पणी पर शुक्रवार को लोकसभा में भारी हंगामा हुअा। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसदों ने इस टिप्पणी की निंदा की और राहुल गांधी से माफी की मांग की। यह मुद्दा संसदीय मामलों के राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने उठाया। मेघवाल ने कहा कि राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मेक इन इंडिया’ के नारे को ‘रेप इन इंडिया’ (भारत में दुष्कर्म) बना दिया। उन्होंने कहा, “क्या वह लोगों को भारत में दुष्कर्म करने के लिए बुला रहे हैं? इसका क्या मतलब है? यह शर्मनाक है। उन्हें देश के लोगों से माफी मांगनी चाहिए।”

संबंधित पोस्ट

सरकारी पैनल करेगी राजीव गांधी फाउंडेशन की जांच,बनाई गई समिति

मोदी से राहुल ने पूछा,बताएं चीनी फौज भारतीय जमीन से कब जाएगी

राहुल ने पर्यावरण दिवस पर संत कबीर के दोहे साझा किए

लॉकडाउन से कोई नतीजा नहीं, बल्कि जनता को हुआ भारी नुकसान : राहुल गांधी

सोनिया-राहुल की मौजूदगी में लांच हुई “राजीव गांधी किसान न्याय योजना”

सीधे गरीबों की जेब में दें पैसा, पैकेज पर दुबारा विचार करें

राहुल गांधी ने समर्थकों की उम्मीदों पर फेरा पानी, वापसी न करने के दिए संकेत

राहुल गांधी ने पेट्रोल, डीजल से कर हटाने की मांग की

कांग्रेस और भाजपा के बीच प्रवासी मजदूरों के किराए को लेकर छिड़ी जंग

आरोग्य सेतु एप्प आउटसोर्स निगरानी प्रणाली, डेटा व नीजता कितना सुरक्षित

राजन ने राहुल गांधी से कहा, गरीबों के भोजन के लिए 65000 करोड़ रुपये की जरूरत

ट्वीटर पर राष्ट्रपति और पीएम को अनफॉलो करना देश का अपमान : – CM भूपेश