फोटो पोस्ट करने से पहले फिल्टर का इस्तेमाल करती हैं 90 फीसदी युवतियां : रिपोर्ट 

लंदन | स्मार्टफोन के जमाने में अपने बेहतरीन फोटो खींचकर सोशल मीडिया पर पोस्ट करने का चलन है। इस बीच एक नए अध्ययन में सामने आया है कि 90 प्रतिशत युवतियां ऑनलाइन पोस्ट करने से पहले अपने फोटो को एडिट करती हैं या फिर इन्हें और बेहतरीन बनाने के लिए एक फिल्टर का उपयोग करती हैं। निष्कर्ष बताते हैं कि युवा महिलाएं अपने फोटो ऑनलाइन शेयर करने के मामले में काफी संवेदनशील हैं और इसे लेकर वह चिंतित भी रहती हैं। कोविड-19 महामारी के दौरान यह प्रवृत्ति और भी बढ़ गई है।

अध्ययन में बताया गया है कि वे अपने स्किन टोन को हटाने के लिए फिल्टर या एडिट का इस्तेमाल करती हैं। वह अपने जबड़े या नाक को भी एडिट करके अच्छी तरह से शेप देती हैं। यही नहीं, अगर उन्हें फोटो में अपना वजन अधिक लगता है तो वह फोटो को इस प्रकार से एडिट करती हैं कि उनका वजन कम दिखे। इसके अलावा वह अपनी स्किन और चमकाने के साथ ही अपने दांतों को लेकर भी सजग रहतीं है और इसके लिए विभिन्न फिल्टर का इस्तेमाल करती हैं।

यूनिवर्सिटी ऑफ लंदन के रोसलिंड गिल फ्रॉम सिटी ने एक बयान में कहा, “अकेले इंस्टाग्राम पर हर दिन लगभग 10 करोड़ फोटो पोस्ट की जाती हैं।”

गिल ने कहा कि सोशल मीडिया पर पोस्ट करने से उन्हें ‘लाइक’ और सराहना मिलती है, जिससे वह काफी खुश होती हैं, लेकिन ज्यादातर युवा महिलाओं के लिए यह बहुत बड़ी चिंता का विषय भी रहता है।

अध्ययन के लिए शोध दल में ब्रिटेन में लगभग 200 युवा महिलाएं और अन्य लोग शामिल थे।

अध्ययन में शामिल युवा महिलाओं ने नियमित रूप से कॉस्मेटिक प्रक्रियाओं के लिए विज्ञापन या पुश नोटिफिकेशन देखने की बात कही और साथ ही माना कि वह विशेष रूप से दांतों को सफेद करने और होंठों के साथ ही स्तन और नाक इत्यादि की शेप को अपने हिसाब से कम और अफोटो पोस्ट करने से पहले फिल्टर का इस्तेमाल करती हैं 90 फीसदी युवतियां : रिपोर्ट धिक करने का कार्य करती हैं।

–आईएएनएस