यूट्यूब ने यूजर्स का स्क्रीन टाइम घटाने को पेश किया ‘बेड टाइम रिमाइंडर’

ये डिजिटल वेल बीइंग पहल का हिस्सा, एंड्रॉएड व आईओएस यूजर्स के लिए उपलब्ध

सैन फ्रांसिस्को । गूगल के स्वामित्व वाले यूट्यूब ने एक नए ‘बेड टाइम रिमाइंडर’ सुविधा की घोषणा की। इसका उद्देश्य देर रात तक यूट्यूब इस्तेमाल करने वालों को अलर्ट भेजना है, ताकि वे स्क्रीन पर अधिक वक्त न बिताकर समय पर सो सकें। यह यूट्यूब में डिजिटल वेल बीइंग पहल के हिस्से के रूप में शामिल है, जो सोते समय यूजर्स को याद दिलाने (रिमाइंडर) के लिए बढ़िया फीचर है। इससे यूजर्स को उनके स्क्रीन पर बिताने वाले समय में कटौती करने में मदद मिलेगी।

यूट्यूब ने कहा, आप वीडियो देखने से रोकने के लिए विशिष्ट समय निर्धारित कर सकते हैं और (आपने यह अनुमान लगाया है!) कब बिस्तर पर जाएं।

कंपनी ने एक बयान में कहा, आप अपनी सेटिंग्स में शुरुआत और समाप्ति का समय निर्धारित कर सकते हैं, जिसमें आप चाहें तो वीडियो को रोक सकते हैं या तब तक इंतजार कर सकते हैं, जब तक कि वीडियो खत्म न हो जाए। आप रिमाइंडर को खारिज या स्नूज भी कर पाएंगे।

यानी इस फीचर की मदद से यूजर्स अपनी जरूरत के मुताबिक रिमाइंडर सेट कर सकते हैं। इसके साथ ही रिमाइंडर सेट करने के बाद जब वीडियो देखते हुए रिमाइंडर अलार्म बजता है तो आप उसे स्किप करते हुए वीडियो देखना जारी रख सकते हैं।

यूट्यूब द्वारा नया फीचर एंड्रॉएड और आईओएस यूजर्स दोनों के लिए उपलब्ध है और इसे जल्द ही अन्य सभी यूजर्स के लिए भी धीरे-धीरे शुरू कर दिया जाएगा।

एप में टेक ब्रेक की सुविधा होगी, जो यूजर्स को वीडियो देखने से आराम या ब्रेक लेने के लिए रिमाइंडर सेट करने की सुविधा प्रदान करता है। ये रिमाइंडर हर 15, 30, 60, 90 या 180 मिनट में सेट किए जा सकते हैं।

(आईएएनएस)