Weather Alert : नए साल तक रहेगी कंप-कंपानेवाली ठंड

शीतलहर और ओलावृष्टि का ज़ारी किया अलर्ट

रायपुर। देशभर में कंप-कंपानेवाली ठंड पड़ रही है। भूमध्य सागर में उत्पन्न होने वाले असमान्य व शक्तिशाली ‘पश्चिमी विक्षोभ’ की वज़ह से देशभर में शीतलहर चल रही है। उत्तर भारत में तापमान बीते 15 दिनों से लगातार गिरा है। मौसम में इस बदलाव का असर छतीसगढ में भी दिख रहा है। गुरूवार सुबह से ही प्रदेश में बदली छाई रही वहीं कई जिलों में बूंदा-बांदी भी हुई। शुक्रवार को मौसम सुबह से ही ठंडा रहा।

जहाँ दोपहर 12 बजे के लगभग बदली छटने के बाद धुप निकली। हालाँकि धुप के बाद भी प्रदेश में शीतलहर का असर देखा जा रहा है। सूबे के मौसम वैज्ञानिकों ने ओलावृष्टि की संभावनाएं जताई है, वहीं प्रदेश भर में कड़ाके की ठंड 31 दिसंबर तक पड़ने की बात मौसम वैज्ञानिकों ने कहीं है। गौरतलब है कि भूमध्य सागर में उत्पन्न होने वाले गुजरात के पास बने ‘पश्चिमी विक्षोभ’ बेहद प्रबल बताया जा रहा है। यह स्थिति चार से पांच दशकों में एक बार बनती है।

इन राज्यों में शीतलहर
पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से देशभर में भीषण शीतलहर का प्रकोप देखा जा रहा है। शीतलहर से उत्तर प्रदेश, बिहार, हरियाणा, पंजाब और राजस्थान में सामान्य जीवन प्रभावित हुआ है। उत्तर प्रदेश में बीते 48 घंटों में 38 लोगों के मौत की सूचना है। हालांकि विभिन्न जिलों से कुल मौतों की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। शीतलहर ने बिहार को भी चपेट में ले लिया है, जहां पटना, गया, भागलपुर और पूर्णिया जिलों में पारे में असामान्य गिरावट की वजह से कई मौतें हुईं हैं।

संबंधित पोस्ट

नए साल के पहले दिन भारत में 69 हजार बच्चे जन्मे

नए साल के पहले दिन सरगुजा तरबतर

मप्र के इंदौर में नया साल का पहला दिन बुरी खबर लेकर आया, 6 मौतें

नए साल में झटका : रेलवे ने बढ़ाया यात्री किराया

Welcome 2020 : 600 जवानों की जद में रायपुराइट्स मनाएंगे जश्न

राहुल ने भेजे ग्रीटिंग कार्ड, न्यू ईयर और क्रिसमस की दी बधाई

नए साल में जनता पर पड़ेगी महंगाई की मार !

छत्तीसगढ़ में शीत लहर की संभावना,येलो अलर्ट जारी…

उत्तरी भारत में बेमौसम बारिश से बढ़ा सर्दी का असर

तूफान “महा” और तूफान “बुलबुल” का छत्तीसगढ़ में अब तक असर नहीं

बे-मौसम बारिश से धान को पहुंच रहा भारी नुकसान…

दीपावली में फिर सकता है पानी, मौसम विभाग का अलर्ट