यास तूफ़ान का रुख बिहार और उत्तर पूर्वांचल की ओर बढ़ा,भारी बारिश का ALERT

छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश में भी पड़ेगा असर,चेतावनी जारी

नई दिल्ली/रायपुर | यास चक्रवात अब पश्चिम बंगाल और ओडिशा को प्रभावित करने के बाद उत्तर प्रदेश और बिहार में भी कहर बरपा सकता है। भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश (पूर्वांचल) और झारखंड के लिए अलर्ट जारी कर दिया है। 

आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल और ओडिशा में तबाही मचाने के बाद चक्रवाती तूफान ‘यास’ बुधवार की रात 75 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार और भारी बारिश के साथ झारखंड की सीमा में प्रवेश किया है। लेकिन इससे पहले चक्रवाती तूफान यास ने ओडिशा और बंगाल के कई जिलों में बड़ी तबाही मचाई है। सैकड़ों तटीय गांवों में पानी भर गया और लाखों घर उजड़ गए। इससे बंगाल में तीन और ओडिशा में एक व्यक्ति की मौत हो गई। ओडिशा के बालासोर और भद्रक जिलों में 128 गांवों में पानी भर गया।

IMD ने पूर्वांचल के लिए ऑरेंज तो बिहार और झारखंड के लिए रेड अलर्ट जारी किया है।  इन इलाकों में जोरदार बरसात की संभावना जताई गई है। मौसम विभाग की माने तो कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, पुड्डुचेरी में भी बारिश के आसार हैं। इसके साथ ही यास का असर छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, तेलंगाना भी होगा जिससे बारिश इन क्षेत्रों में हो सकती है। वहीँ राजस्थान में तेज हवा से जन जीवन अस्त व्यस्त होने की संभावना है। 

छत्तीसगढ़ में “यास” का असर

तूफ़ान  “यास” आज से छत्तीसगढ़ में भी तांडव मचा सकता है। छत्तीसगढ़ मौसम विभाग ने 48 घंटे का अलर्ट जारी करने के साथ ही प्रदेश के 7 जिलों के लिए मौसम विभाग ने आरेंज अलर्ट जारी किया है।  

रायपुर मौसम विभाग के विज्ञानी एच.पी.चंद्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि दक्षिण पश्चिम मानसून की उत्तरी सीमा 5°N/72°E, 6°N/75°E, 8°N/80°E, 12°N/85°E, 14°N/90°E और  17°N / 94E डिग्री से गुजर रही है। दक्षिण-पश्चिम मॉनसून मालदीव कोमोरिन क्षेत्र के कुछ और हिस्सों, बंगाल के दक्षिण-पश्चिम और पूर्वी मध्य बंगाल की  खाड़ी, बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पूर्व के अधिकांश हिस्सों में 27 मई को सुबह ही पहुंच गया है। 

दक्षिण झारखंड और आस-पास के ऊपर गहरा दबाव पिछले 6 घंटों के दौरान लगभग 05 किमी प्रति घंटे की गति से लगभग उत्तर की ओर बढ़ रहा है और आज 27 मई को  0830 बजे IST, दक्षिण झारखंड, उत्तर और अक्षांश 22.9N, 85.5°E, के पास, जमशेदपुर के पश्चिम-उत्तर-पश्चिम में लगभग 70 किमी और रांची (झारखंड) के 65 किमी दक्षिण-पूर्व में स्थित है।  सिस्टम के लगभग उत्तर की ओर बढ़ने और अगले 03 घंटों में कमजोर होकर  एक अवदाब के रूप में परिवर्तित होने की बहुत संभावना है।

शुक्रवार 28 मई को प्रदेश के एक-दो स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने अथवा गरज चमक के साथ छीटें पड सकते हैं। एक दो स्थानों पर गरज चमक के साथ अंधड चलने और आकाशीय बिजली गिरने की सम्भावना है। अधिकतम तापमान में उत्तर छग में वृद्धि तथा दक्षिण छग में विशेष परिवर्तन होने की संभावना नहीं है।