यास कमजोर होकर ‘डीप डिप्रेशन में तब्दील, उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना

नई दिल्ली | बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान यास कमजोर होकर ‘डीप डिप्रेशन’ में बदल गया है और अगले 12 घंटों के दौरान इसके उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और धीरे-धीरे कमजोर होने की संभावना है।

मौसम विज्ञान विभाग ने कहा, “अगले 12 घंटों के दौरान चक्रवात के उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और धीरे-धीरे कमजोर पड़ने की संभावना है। बुधवार सुबह करीब नौ बजे तूफान ने लैंडफॉल की प्रक्रिया शुरू की थी।”

चक्रवात यास कमजोर होकर पिछले छह घंटों के दौरान लगभग 13 किमी प्रति घंटे की गति से उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ रहा है।

आईएमडी के पूर्वानुमान के अनुसार, दक्षिण झारखंड और इससे सटे उत्तरी ओडिशा में तीन घंटे के दौरान तूफान की हवा की गति 60 किलोमीटर से धीरे-धीरे कम होकर 40-50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार तक हो जाएगी।
Yaas weakens into 'deep depression', likely to move north-westwards .
तूफान यास से अगले 12 घंटों के दौरान ओडिशा के अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होगी और उत्तर आंतरिक राज्य में कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है।

पश्चिम बंगाल में, अगले 12 घंटों के दौरान मेदिनीपुर, झारग्राम, बांकुरा में छिटपुट स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा के साथ अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है।

अगले 24 घंटों के दौरान झारखंड में अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा, भारी से बहुत भारी वर्षा और छिटपुट स्थानों पर अत्यधिक भारी वर्षा होने की संभावना है।

बता दें राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) ने भीषण चक्रवाती तूफान यास से निपटने और तैयारियों के मद्देनजर पांच राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में 113 टीमों को तैनात किया है।

बचाव अभियान के लिए इस तरह की यह अब तक की सबसे बड़ी तैनाती है।  इन टीमों को पश्चिम बंगाल, ओडिशा, झारखंड, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु तथा अंडमान और निकोबार द्वीप में तैनात किया गया है।

कुल टीमों में से 104 को जमीन पर तैनात किया गया है, जबकि नौ स्व-निहित टीमें स्थिति से निपटने के लिए राज्यों के भीतर हाई अलर्ट पर हैं।

–आईएएनएस