भाजपा के हनी ट्रैप में 52, 72, 000

अमित शाह के ट्वीट पर मिल रहा ऐसा जवाब

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून को समर्थन देने के लिए भारतीय जनता पार्टी ने एक नंबर जारी किया था। पार्टी ने लोगों से कहा था कि जो कानून का समर्थन करते हैं वो 8866288662 पर मिस्ड कॉल करें भाजपा अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कल ट्वीटर यह जानकारी देते बताया था कि इस  कानून के समर्थन में विशेष नंबर पर 52,72,000 मिस्ड कॉल मिले हैं। ये मिस्ड कॉल वेरिफिएबल फोन नंबर से प्राप्त हुए। वहीं अब तक कुल इस नंबर पर  4 दिन में 68 लाख कॉल रिसीव की गई है।

बता दें कि नए नागरिकता कानून के समर्थन में मिस्ड कॉल अभियान का ऐलान 3 जनवरी को किया गया था। बीजेपी और केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने अपील की थी कि दिए नंबर पर मिस्ड कॉल देकर CAA को समर्थन दें।

ट्वीटर पर इसे लेकर अब इसकी प्रामाणिकता पर सवाल उठाते हुए एक तरह से मजाक को दौर शुरू हो गया है। एक ट्वीटर पर जवाब देते एक यूजर ने लिखा है भाजपा के हनी ट्रैप में 52, 72, 000।

उल्लेखनीय है कि उक्त फोन नंबर पर अधिक से अधिक कॉल करवाने के लिए सोशल मीडिया पर अलग-अलग लड़कियों के नाम से बने अकाउंट में ये नंबर डाले गए हैं जिसमें  लोगों को लुभावने वादे किये घए हैं।

कहीं, नेटफ्लिक्स का फ्री सबस्क्रिपशन पाने का मौका तो कहीं सन्नी लियोनी से मिलने का चांस, तो अकेली हूं‌, सेक्स चैट आदि। झांसा देकर इस तरह वोट पाना बताकर सोशल मीडिया ने भाजपा की खूब बखिया उधेड़ी और अब अमित शाह के  इस संबंध में जानकारी देने के बाद फिर प्रतिक्रियाएं का दौर शुरू हो गया।

सोशल मीडिया में सचेत यूजर्स ने अमित शाह के दावे पर लोगों ने सवाल किया है कि क्या जो मिस्ड कॉल मिले हैं, वे असल कालर हैं भी? सीएए व एनआरसी के समर्थन पर मिले कॉल का ये आंकड़ा क्या बहुसंख्यक होने का दावा है?

इतना ही नहीं, अमित शाह के इस आंकड़े पर लोगों ने कहा, “हमें पता है कि इस नंबर पर कॉल करने वाले 80 फीसदी लोग सन्नी लियोनी से बात करना चाहते हैं, ऐसे ही मिस्ड कॉल करवाया है आपके समर्थकों ने।” एक यूजर ने तो यहां तक कह दिया कि भाई और कितना गिरोगे।

उल्लेखनीय है कि एक ओर जहां भाजपा ने नंबर जारी कर लोगों से नागरिकता संशोधन अधिनियम के समर्थन में मिस्ड कॉल करने की अपील की थी, तो वहीं दूसरी ओर विपक्ष ने दूसरा नंबर जारी कर नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए), राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के खिलाफ समर्थन देने के लिए मिस्ड कॉल करने की भी अपील की थी।

संबंधित पोस्ट

आप ने भाजपा से पूछा, आपका मुख्यमंत्री उम्मीदवार कौन है?

संविधान को पाठ्यक्रम में शामिल करने पर 3 महीने में फैसला ले केंद्र : सुप्रीम कोर्ट

अजय देवगन की फिल्म ‘तानाजी’ हरियाणा में हुई टैक्स फ्री

दिल्ली चुनाव : जजपा को 4-5 सीटें दे सकती है भाजपा

अस्पताल पहुंचे अमिताभ को आई मां की याद

महंगाई को लेकर प्रियंका का मोदी सरकार पर वार

सीएए के खिलाफ रणनीति बनाएंगे विपक्ष दल

सीएए पर अफवाहों को हवा दे रहे कुछ राजनीतिक दल : मोदी

देश के मुसलमानों के लिए हिन्दुस्तान से सुरक्षित जगह कोई नहीं : नकवी

सीएए देशहित में नहीं, राज्य में इसे लागू नहीं होने देंगे : कमलनाथ

पाखंडी, रेप के आरोपी स्वामी ओम की स्वरा पर गालियों की बौछार

भानुप्रतापपुर के पूर्व भाजपा मंडल अध्यक्ष पर हमला